यह है नया राजद, नया मुद्दा, सीएम-पीएम को घेरा

यह है नया राजद, नया मुद्दा, सीएम-पीएम को घेरा

सप्ताह भर पहले तेजस्वी यादव ने राजद को नई पहचान देने का आह्वान किया था। 2020 विधानसभा चुनाव से पहले जो राजद था, अब वही राजद नहीं लग रहा। उठाया नया मुद्दा।

कुमार अनिल

सिर्फ एक सप्ताह पहले राजद के जिला-प्रखंड अध्यक्षों के प्रशिक्षण शिविर में पार्टी नेता तेजस्वी यादव ने बदलती राजनीतिक-सामाजिक स्थिति के अनुसार पार्टी में भी बदलाव पर जोर दिया था। उन्होंने राजद को नई पहचान देने का आह्वान किया था। आज तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को फिर पत्र लिखा है, वह भी एक बिल्कुल नए मुद्दे पर। मुद्दा है बिहार को बाढ़ से बचाने के लिए नदी जोड़ योजना। उन्होंने पत्र में एक नई मांग की है। कहा है कि नदी जोड़ योजना और बाढ़ से बचाव के लिए अन्य योजनाओं को केंद्र सरकार राष्ट्रीय योजना घोषित करे।

राजद की पहचान मुख्यतः जाति और जमात की राजनीति करने की रही है। सामाजिक न्याय प्रमुख नारा रहा है। 2020 विधानसभा चुनाव में तेजस्वी यादव ने नए मुद्दों के साथ राज्य की राजनीति को झकझोरा। रोजगार, खेती, अस्पताल और बेहतर पढ़ाई को मुद्दा बनाया। इन मुद्दों को एनडीए भुला चुका था। इस सबकी चर्चा राष्ट्रीय स्तर पर हुई। लगता है तेजस्वी पार्टी को नई पहचान देने के अपने मुहिम में और भी आगे बढ़े हैं।

अब तेजस्वी ने एक ऐसा मुद्दा उठाया है, जिसे 10 साल खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उठाया करते थे। लेकिन अब उनके एजेंडे में यह मुद्दा नहीं रहा। कई एनजीओ भी इस मुद्दे को उठाते रहे हैं। यह मुद्दा है नदियों को जोड़ने, बांध-तटबंध का निर्माण पुख्ता करने तथा वाटर मैनेजमेंट इस प्रकार करने कि बाढ़ से हर साल परेशान होनेवाले लोगों की जिंदगी बर्बाद होने से बचाई जा सके। सवाल किशनगंज से चंपारण तक के 20 जिलों का और करोड़ों लोगों से जुड़ा है।

विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एक पत्र लिख कर बिहार में बाढ़ की तबाही की ओर ध्यान खींचा है। जब भी बाढ़ आती है, तब इससे बचने के उपायों की चर्चा होती है, फिर इसे ठंडे बस्ते में डाल दिया जाता रहा है, लेकिन तेजस्वी ने इस मुद्दे को जिंदा कर दिया है। सही है, अगर अभी से इस दिशा में काम नहीं हुआ, तो फिर अगले साल बाढ़ आएगी।

तेजस्वी ने अपने पत्र में कहा है कि मेरा सुझाव व आग्रह है कि राज्यहित में प्रतिवर्ष बाढ़ की विभीषिका के कारण होने वाले नुकसान एवं नदी जोड़ने की योजना के महत्व के संदर्भ में आपके नेतृत्व में एक सर्वदलीय प्रतिनिधि मंडल माननीय प्रधानमंत्री जी से मिलकर उपर्युक्त मांगों को रखे।

तेजस्वी ने सीएम-पीएम दोनों को घेरते हुए लिखा है-चूंकि वर्तमान में केंद्र और राज्य दोनों जगह NDA की ही सरकार है, ऐसी स्थिति में राज्य के लोगों के जान-माल से जुड़ी तथा राज्यहित की इन अत्यंत महत्वपूर्ण योजनाओं के कार्यान्वयन में इतनी उदासीनता समझ से परे है।

Caste Census पर नीतीश नीति:BJPऔर RJD दोनों से बार्गेनिंग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*