जुबैर के साथ खड़ा हुआ ऑल्ट न्यूज, कहा-पीड़ित का पक्ष रखा

जुबैर के साथ खड़ा हुआ ऑल्ट न्यूज, कहा-पीड़ित का पक्ष रखा

आज जब कई अखबार और न्यू साइट एक कंप्लेन होने पर पत्रकार को बाहर का रास्ता दिखा देते हैं, तब ऑल्ट न्यूज मुकदमे के बावजूद जुबैर के पक्ष में खड़ा हुआ।

आज ऑल्ट न्यूज के प्रतीक सिन्हा आज खुलकर अपने साथी मोहम्मद जुबैर के पक्ष में खड़े हुए। उन्होंने ट्वीट किया- यह स्पष्ट है कि ऑल्ट न्यूज के को-फाउंडर मोहम्मद जुबैर को इसलिए मुकदमे में फंसाया गया, क्योंकि उन्होंने गाजियाबाद मामले में पीड़ित का पक्ष रखा। जिस तरह सोशल मीडिया में जुबैर के पक्ष में लोग अपनी बात कह रहे हैं, वह उनके प्रभाव को ही दिखाता है। ऑल्ट न्यूज की पूरी टीम जुबैर के साथ है।

प्रतीक सिन्हा ने यह भी कहा, टाइम्स नाऊ 12.29 में पीड़ित की बात को ट्वीट किया, वहीं जुबैर ने 12.35 मिनट पर पीड़ित का पक्ष ट्वीट किया। उन्होंने विशेषकर लिखा कि यह पीड़ित का दावा है। इसके बावजूद टाइम्स नाऊ पर कोई एफआईआऱ नहीं हुई, पर जुबैर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर दी गई।

द वायर ने भी लिखा कि पीड़ित की बात रखने को अपराध बताया जा रहा है। ग्रुप ने कहा कि सरकार चाहती है कि सिर्फ सरकारी बयान ही प्रकाशित हो। द वायर ने मुकदमा करने की निंदा की है। कहा, कि घटना के बारे में कई अखबारों ने रिपोर्ट की। आज उसका वीडियो यू-ट्यूब पर उपलब्ध है। पिछले 14 महीनों में द वायर पर यह तीसरा आपराधिक मामला दर्ज हुआ है।

सोशल मीडिया पर ऑल्ट न्यूज और जुबैर के पक्ष में अनेक लोगों ने ट्वीट किया है। सवाल यह भी उठ रहे हैं कि उस वीडियो के आधार पर अनेक प्रमुख अखबारों ने अपने ऑनलाइन एडिशन में खबर प्रकाशित की, ट्वीट भी किया, पर केव द वायर और ऑल्ट न्यूज पर ही एऱआईआर क्यों किया गया। कई लोगों ने पूछा कि ऑल्ट न्यूज ने सैकड़ों फेक न्यूज का प्रदाफाश किया, लेकिन किसी पर मुकदमा नहीं हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*