ए पी पाठक ने सम्राट चौधरी और विजय सिन्हा को उप मुख्यमंत्री बनने पर दी बधाई

भाजपा नेता ए पी पाठक ने नई सरकार के साथ सम्राट चौधरी और विजय सिन्हा को उप मुख्यमंत्री बनने पर दी बधाई…संवाददाता

भाजपा नेता तथा पूर्व एडीजी भारत सरकार एपी पाठक बिहार की राजधानी पटना के दौरे पर है।
जहां वो पार्टी कार्यालय में पदाधिकारियों और अन्य भाजपा नेताओं से मिल रहे है।
इसी क्रम में बिहार में राजनीतिक उठापटक के साक्षी वो भी बने।
इसी क्रम में दिन भर गहमागमी में भी वो शामिल रहे।
आज संवाददाताओं से बात करते हुए उन्होंने नीतीश कुमार को एनडीए में शामिल होने पर बधाई दिया ।
साथ ही बिहार भाजपा के कद्दावर नेता सम्राट चौधरी और विजय कुमार सिन्हा को उप मुख्यमंत्री बनने पर बधाई दिया।
उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार को एनडीए में आने से बिहार को जंगल राज से मुक्ति मिलेगी।
डबल इंजन की सरकार में बिहार का चहुंमुखी विकास होगा।
रामराज्य बिहार में आएगा।नियुक्तियों में जो राजद के तरफ से दबाव आ रहा था वो पारदर्शी और सम्यक तरीकों से होगा।
भाजपा नेता एपी पाठक ने कहा कि भाजपा दबाव और जोड़ तोड़ की राजनीति नहीं करती।
जेडीयू तीसरे नंबर की पार्टी होने के बावजूद बिहार के विकास के लिए भाजपा ने पद और सत्ता का मोह त्याग कर नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री की कुर्सी शुरू से ही सौंप दिया।
बीच में राजनीतिक महत्वाकांक्षा के लिए नीतीश जी ने गठबंधन तोड़ा परंतु सुबह का भूला शाम को घर आ जाए तो राजनीति में दरवाजे खुल जाते है।
भाजपा ने विहार और बिहारी अस्मिता तथा बिहार के विकास के लिए नीतीश कुमार के प्रस्ताव को स्वीकार किया।
उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार का अनुभव और सम्राट चौधरी की कर्तव्यनिष्ठा से बिहार विकास का नया आयाम गढ़ेगा।
भाजपा नेता तथा पूर्व एडीजी एपी पाठक ने कहा कि अब एनडीए बिहार में लोकसभा में क्लीन स्वीप करेगा और देश के यशस्वी प्रधानमंत्री को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने में बिहार की महती भुमिका रहेगी।
बिहारी लोग हमेशा से राष्ट्र को आगे बढ़ाने का काम किए हैं और बिहार ने राष्ट्रीय स्तर पर राष्ट्रवाद को परिभाषित किया है।
आपको बताते चले कि भाजपा नेता एपी पाठक पिछले डेढ़ दशकों से अधिक समय से वाल्मिकीनगर लोकसभा की सेवा करते आ रहे है और जीवनपर्यंत करते रहेंगे।
भाजपा नेता वाल्मिकीनगर लोकसभा में घुम घुमकर मोदी जी की विकासपरक नीतियों और विकसित भारत के संकल्प को जनता के बीच प्रचार प्रसार कर रहे है।
भाजपा नेता एपी पाठक ने कहा कि उनके लिए राजनीति पद नहीं बल्कि लोकसेवा का एक माध्यम है।