पटना की मुन्नी दवी के मोबाइल पर पुलिस अधिकारी पवन कुमार मिश्र की आवज कैद है जिसमें वह मुन्नी देवी से एक लाख रूपये की मांग कर रहे हैं.

इससे पहले इन्ही पुलिस अधिकारी और एक मामले के अनसंधान कर्ता पवन कुमार ने मुन्नी देवी से 18 हजार रुपये पटना से दिल्ली हवाई यात्रा के लिए ले लिए थे. मुन्नी का कहना है कि एक प्रेमी युगल को दिल्ली में आवास दिलवाने में मदद करने के आरोप में स्थानीय पुलिस ने उनके बेटे सूरज कुमार को गिरफ्तार कर ले गई थी.

मुन्नी कहती हैं, “अनुसंधान कर्ता पुलिस अधिकारी पवन कुमार मिश्र ने मुझसे कहा कि प्रेमी युगल को गिरफ्तार करने के लिए दिल्ली जाने में हवाई जहाज का किराया मुझे वहन करना पड़ेगा क्योंकि उनके पुत्र मनोज ने प्रेमी युगल मदद की थी”.

मुन्नी के अनुसार पुलिस ने जबरन उनसे 18 हजार रुपये लिए और इसके अलावा सात हजार रुपये उनके एक रिश्तेदार की जेब से निकाल लिये. इतना ही नहीं पुलिस वाले मनोज की रिहाई के बदले उनके परिवार से अतिरिक्त 75 हजार रुपये की मांग कर रहे हैं.

हालांकि इस मामले में स्थानीय थाना अध्यक्ष पुष्कर कुमार का कहना है कि यह आरोप सरासर गलत है.

इस मामले में मुन्नी ने कहीं से कोई मदद नहीं मिलने पर इसकी शिकायत पटना के सिटी एसपी जयंतकांत से की है.

सिटी एसपी जयंतकांत यह स्वीकार करते हैं कि मुन्नी ने अपने बेटे को निर्दोष बताते हुए उसकी रिहाई का आग्रह किया है पर उन्होंने इस बात से इनकार किया कि पुलिस वाले ने उससे हजारों रुपये लिए.
बताया जाता है कि अनुसंधान कर्ता पवन कुमार मिश्र हवाई जहाज से दिल्ली रवाना हो चुके हैं.

अब सवाल यह पूछा जा रहा है कि अगर सूरज ने प्रेमी युगल को आवास दिलवाने में मदद की और वह भी इस मामले में दोषी है ते क्या इसके बावजूद पुलिस इस मामले के अनुसंधान के नाम पर सूरज के परिवार वालों से ही पैसे लेगी?

सिटी एसपी के रवैये से अभी तक यह स्प्ष्ट नहीं हो सका है कि जबरन पैसा वसूली करने वाले आरोपी पुलिस अधिकारी पवन के खिलाफ कोई कार्वाई भी होगी या नहीं.

By Editor


Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/naukarshahi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420