बिहार महिला सम्मान समारोह के मौके पर ट्रस्ट की वाइस चेयरपर्सन रुबिया अंबर को सम्मान प्राप्त हुआ।

मुख्य अतिथि लोक गायिका नेहा सिंह राठौर ने इस सम्मान को देते हुए ट्रस्ट के कामो की प्रशंसा की। यह कार्य्रकम उन महिलाओं के लिए आयोजित किया गया था जिन्होंने देश और बिहार को बदला है और वर्षो से कोशिश में लगी हैं कि बेटियों को उनका हक़ मिले।

कहते हैं एक औरत अगर ठान ले तो वो कुछ भी कर सकती है। चाहे वो खेल जगत हो या फिर शिक्षा का क्षेत्र,अंतरिक्ष हो या समुद्री दुनिया, महिलाओं ने हर जगत में अपने जीत का ऊंचा परचम लहराया है । तमाम रुकावटों के बावजूद भी महिलाओं ने हर सदी में स्वर्ण अक्षरों में अपना नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज किया है ।


आज भारत की शिक्षा क्षेत्र के ऐसी ही महत्वकांक्षी महिलाओं में एक बहुचर्चित नाम है “रुबिया अम्बर”, जो आज नाजाने कितनी ही युवाओं की प्रेरणा बन चुकी हैं । किसे पता था कि अंडमान निकोबार के एक छोटे से जगह पर पलने वाली ये महिला भारत के आने वाले सुनहरे भविष्य का कल गढ़ेगी ।

कहा जाता है एक लड़के को पढ़ाने से सिर्फ एक लड़का शिक्षित होता है ,पर एक लड़की के पढ़ने से पूरा परिवार शिक्षित होता है । ऐसे ही बच्चियों को शिक्षित करने का बीड़ा उठाये रुबिया जी ने एक मिशन”Go Girl Grow Girl” की शुरुआत की । जिसमे उन्होंने सिर्फ भारत ही नहीं नेपाल और बांग्लादेश जैसे देश की भी बच्चियों को पढ़ाने का ज़िम्मा उठाया ,जिनमें पढ़ने का जुनून तो है पर साधन नहीं । “Rosemine Educational and charitable trust” की वाइस चेयरपर्सन रुबिया जी का कहना है कि देश की दिशा तभी बदल सकती है जब इन दिशाहीन बच्चियों को सही दिशा मिले।

रुबिया अम्बर ने कहा हमारा ट्रस्ट बच्चों को उनके हक़ की स्कॉलरशिप देकर उनके सपनों को एक सही दिशा प्रदान करता है । इतना ही नहीं Dr APJ Abdul Kalam और नेपाल की प्रेसिडेंट Vidya Devi Bhandari से सम्मानित इस ट्रस्ट का उद्देश्य समाज दहेज और बालविवाह जैसी कुप्रथाओं को खत्म कर हर बच्ची को उनकी उच्च शिक्षा का हक़ दिलाना है।


उपलब्धियों का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि वर्षों पहले कलाम साहब ने भविष्यवाणी करते हुए मंच पर कहा था की “यू विल फ्लाई”….और आज ये ट्रस्ट खुद के साथ साथ हज़ारों बच्चों के पंखों को ऊंची उड़ान दे रहा है ।

By Editor


Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/naukarshahi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420