हत्या, बलात्कार, भ्रष्टाचार पर तेजस्वी का नीतीश पर सवालों की बौछार

हत्या, बलात्कार, भ्रष्टाचार पर तेजस्वी का नीतीश पर सवालों की बौछार

तेजस्वी यादव ने बिहार में 500 से ज़्यादा हत्या और भ्रष्टाचार के मुद्दों पर नीतीश सरकार को घेरते हुए सवालों की बौछार कर दी है।

बिहार में महाजंगलराज है। प्रदेश में चहुँओर बलात्कार, लुटपाट और हत्या का डरावना शोर है। बिहार में प्रशासनिक अराजकता के कारण भ्रष्टाचार चरम पर है।

तेजस्वी ने पटना में प्रेस कांफ्रेंस कर अपनी बात रखी।

  • 16 साल सत्ता में रहने के बाद भी नीतीश कुमार को यह बात समझ नहीं आई है कि लोकतंत्र में नागरिक सेवा, सुरक्षा और विकास कार्यों के लिए सरकार चुनती है, हर जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ते हुए सत्ता सुख भोगने के लिए नहीं।
  • नीतीश कुमार जी को राजद शासनकाल और उनके 15 वर्षों के अपराध के आँकड़ों का तुलनात्मक अध्ययन करना चाहिए इससे उनके भ्रम दुर होने के साथ-साथ मन, दिल और दिमाग़ के कपाट खुल जाएँगे। मैंने अनेक बार विधानसभा सबूत सहित आँकड़े पेश किए है लेकिन उन्होंने कभी भी गृहमंत्री के नाते उन्होंने मेरे सवालों का जवाब नहीं दिया। क्योंकि उनके पास जवाब है ही नहीं।
  • पूर्णिया में नवनिर्वाचित जिला पार्षद के पति रिंटू सिंह की नीतीश सरकार की मंत्री के भतीजे ने खुलेआम हत्या करवा दी पर नीतीश कुमार हरकत में आने के बजाय कान में तेल डालकर दूसरी ओर देखने का ढोंग कर रहे हैं!
  • विश्वजीत उर्फ़ रिंटू सिंह पुलिस को मंत्री लेशी सिंह और उसके भतीजे से अपने जान के खतरे को लेकर लिखित रूप में आवेदन दे चुके थे। पर नीतीश कुमार की पुलिस ने ना तो FIR दर्ज किया और ना ही उन्हें सुरक्षा प्रदान की।
  • हमारी माँग है इस हत्याकांड में लिप्त लेसी सिंह और SHO और पूर्णिया पुलिस की CDR सार्वजनिक की जाए।
  • मधुबनी के फ्रीलांस पत्रकार व RTI एक्टिविस्ट अविनाश झा की भी दो दिन लापता रहने के बाद संदिग्ध हालत में लाश मिली है। सभी का मानना है कि अस्पताल माफिया के विरुद्ध आवाज उठाने पर सरकार में बैठे लोगों ने उनकी हत्या करवाई है।
  • 4 दिन पहले शिवहर में बिहार के पूर्व मंत्री रघुनाथ झा के भतीजे नवीन झा की भी गोली मारकर हत्या कर दी गई! यहाँ जब रसूखदार और सत्ता के क़रीबी सुरक्षित नहीं हैं तो सरकार की नीतियों का विरोध करने वाले और आम आदमी कहाँ से सुरक्षित रहेंगे?
  • चंद दिन पूर्व मोतिहारी में पुलिस custody में एक छात्रा की मौत हुई। जेडीयू पुलिस के पास कोई जवाब नहीं।
  • छठ पूजा के दिन मुख्यमंत्री के आँगन नालंदा में 23 वर्षीय युवती के साथ गैंग रेप किया गया।
  • जदयु के वाल्मीकिनगर से विधायक धीरेंद्र प्रताप सिंह ने जिला पार्षद दयानंद वर्मा की बीच बाज़ार गोली मारकर हत्या करवा दिया! उनकी पत्नी न्याय के लिए जगह जगह भटक रही है! पर न्याय मिलेगा कैसे जब मुख्यमंत्री खुद ही न्याय के ऊपर फन निकाले कुंडली मारकर बैठे हैं! गौरतलब है कि स्वर्गीय दयानंद वर्मा की पत्नी कुमुद वर्मा मुख्यमंत्री के तथाकथित जनता दरबार का दरवाजा भी खटखटा आईं पर नीतीश कुमार की धूर्तबाजी के कारण उन्हें कभी न्याय मिलेगा?
  • नीतीश कुमार के कुचायकोट के विधायक अमरेंद्र पांडे उर्फ़ पप्पू पांडे अपने भाई साथ मिलकर अनेकों हत्याएँ करवा चुका है। हाल में गोपालगंज ट्रिपल मर्डर कांड और रामाश्रय कुशवाहा हत्याकांड खासे चर्चा में रहे पर नीतीश सरकार ने बड़ी बेहयाई और निर्दयता से वहाँ भी अपने हिस्ट्रीशीटर विधायक को संरक्षण दिए हुए हैं!
  • मधुबनी हत्याकांड कौन भूल सकता है जब कथित रूप से विनोद नारायण झा और रावण सेना के गुर्गों ने मिलकर होली के दिन एक ही परिवार के पाँच लोगों की काट काटकर और फिर गोली चलाते हुए हत्या कर दी।
  • पटना के गुप्ता ब्रदर्स के अपहरण की बात तो पटना की ही है। लापता गुप्ता बंधुओं की कहीं कोई खबर नहीं है।
  • विगत एक वर्ष में वैश्य समाज के 500 से अधिक व्यवसायियों की हत्या हुई है।
  • ज़हरीली शराब से विगत 15 दिनों में 65 से अधिक लोगों की संस्थानिक हत्या हुई है।
  • जब मुख्यमंत्री का अपने खूनी विधायकों और मंत्रियों पर नियंत्रण नहीं है तो अपराधियों, आपराधिक प्रवृत्ति वाली बिहार पुलिस और शराब माफिया पर कहाँ से नियंत्रण होगा?
  • जिस ‘गड़बड़ लोग’ की नीतीश कुमार बात करते रहते हैं वो सब का सब तो उनकी पार्टी, सरकार, गठबंधन और प्रशासन में ही बैठा है!
  • और जिस ‘गड़बड़ चीज़’ की नीतीश कुमार बात करते हैं उसको बढ़ावा देनेवाली, उससे कमानेवाली तो उन्हीं के नीचे काम करनेवाली बिहार पुलिस, उनकी सरकार में बैठे लोग, उनके पार्टी और गठबंधन के नेता हैं!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*