2022 अंतिम दिन : भक्तों में उदासी, विरोधी आक्रामक, ऐसा क्यों?

2022 अंतिम दिन : भक्तों में उदासी, विरोधी आक्रामक, ऐसा क्यों?

अजीब बात है। 2022 का अंतिम दिन बीत रहा। भक्तों में उदासी छाई है या वे रूटीन कार्य में लगे हैं। सोशल मीडिया पर विरोधी आक्रामक। नीतीश- तेजस्वी ने भी धोया।

@NitishKumar
और तेजस्वी यादव ने उच्च माध्यमिक विद्यालयों के प्रधानाध्यापक, जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थानों के व्याख्याता,विश्वविद्यालयों एवं राजकीय अभियंत्रण महाविद्यालयों के सहायक प्राध्यापकों को नियुक्ति पत्र दिए।

वर्ष 2022 का अंतिम दिन। अजीब बात है कि सोशल मीडिया भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों से खफा लोग सुबह से ही तंज कस रहे हैं, व्यंग्य कर रहे हैं, लेकिन भाजपा समर्थक-नेता चुपचाप झेल रहे हैं। कुछ अपने को रूटीन ट्वीट करने में व्यस्त दिखा रहे हैं, तो कुछ पुराने ढर्रे पर कुछ लिख रहे हैं। और तो और, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने साल के जाते-जाते शनिवार शाम को भाजपा पर जबरदस्त हमला किया। हमला करने में तेजस्वी यादव ज्यादा तीखे दिखे।

सोशल मीडिया पर शनिवार सुबह से ही लोग सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 2022 के लिए किए वादे याद दिला रहे हैं। कई लोगों ने लिखा आज रात 12 बजे देश के किसानों की आय दोगुनी हो जाएगी।

नवीन के तिवारी ने भोजपुरी में ट्वीट किया-मोदी के हिसाब से 31 दिसम्बर 2022 के होखे वाला बा- 1-देस के अर्थव्यवस्था 5 ट्रिलियन 2-किसानन के आय दोगुना 3-बुलेट ट्रेन चले लागी 4-हर भारतीय के आपन घर 5-हर घर के बिजली 6-एस्ट्रोनट अंतरिक्ष में करेजा थाम्हि के बइठल रहीं सभे नोट-एह के अलावा बहुत कुछ बा, जवन 2022 में होखे वाला बा। नवीन ने कई अखबारों की खबरों को शेयर किया है। देखिए-

साल के अंतिम दिन राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और भाजपा पर हमला किया। इसका वीडियो शेयर करके कांग्रेस समर्थक भाजपा से पूछ रहे हैं कि प्रधानमंत्री मोदी प्रेस वार्ता क्यों नहीं करते।

इधर बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भाजपा पर करारा हमला किया और कहा कि देश के इतिहास से छेड़छाड़ बरदाश्त नहीं करेंगे। योगदान कुछ नहीं, चलें हैं इतिहास की बातें करने। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी नियुक्तिपत्र बांटने के साथ 2023 में बंपर वैकेंसी की बात कही। बाद में उन्होंने भी भाजपा पर हमला बोला।

मां ब्लड ने 10 महीने में ढाई हजार मरीजों की जान बचाने में की मदद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*