बाइडेन ने वियतनाम में राज खोला, बताया मोदी को क्या दी नसीहत

बाइडेन ने वियतनाम में राज खोला, बताया मोदी को क्या दी नसीहत। अमेरिका ने बहुत कोशिश की पर भारत में प्रेस वार्ता की नहीं मिली इजाजत। जानिए बाइडेन ने क्या कहा-

जी-20 की परंपरा रही है कि आयोजन के बाद प्रमुख राष्ट्र प्रेस वार्ता करके निर्णयों की जानकारी देते रहे हैं। पत्रकार सवाल पूछते रहे हैं, लेकिन दिल्ली में जी20 के आयोजन के बाद प्रेस वार्ता नहीं हुई। हालांकि इसके लिए अमेरिकी प्रशासन ने कोशिश की, पर भारत सरकार सहमत नहीं हुई। इसी कारण अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन भारत में प्रेस से बात नहीं कर सके। अब उन्होंने वियतनाम पहुंचकर राज खोला है और बताया कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से क्या कहा।

अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन को कम्युनिस्ट देश वियतनाम में प्रेस से वाबत करने से रोका नहीं गया। वहां उन्होंने प्रेस से बात करते हुए जानकारी दी कि प्रधानमंत्री मोदी से उन्होंने क्या कहा। बाइडेन ने बताया कि उन्होंने भारत के प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी से प्रेस की स्वतंत्रता और मानवाधिकारों की रक्षा करने की सलाह दी है। बाइडेन के इस खुलासे के बाद सोशल मीडिया में यह खबर वायरल हो गई है।

सोशल मीडिया में लोग सवाल उठा रहे हैं कि भारत को लोकतंत्र की जननी कहने वालों ने प्रेस को विश्व के नेताओं से दूर रखा। भारत में प्रेस की आजादी की क्या स्थिति है, इस पर भी लोग अपने विचार रख रहे हैं। कई लोगों ने कहा कि लोकतांत्रित देश में प्रेस वार्ता की इजाजत नहीं मिली, लेकिन कम्युनिस्ट देश ने प्रेस से वार्ता करने की इजाजत दी।

द टेलिग्राफ की खबर के मुताबिक अमेरिकी राष्ट्रपति ने वियतनाम में पत्रकारों से बात करते हुए जानकारी दी कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के साथ भारत और अमेरिका के रिश्ते पर ठोस बात की है। उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री मोदी से भारत में प्रेस की आजादी और मानवाधिकार पर भी बात हुई। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के साथ वार्ता में उन्होंने मानवाधिकार और प्रेस फ्रीडम का सवाल उठाया। पहली बार भारत आए बाइडेन ने वियतनाम में कहा कि मानवाधिकार, प्रेस की आजादी के अलावा उन्होंने भारत में सिविल सोसाइटी को मजबूत करने पर भी बल दिया। उन्होंने कहा कि भारत के साथ बातचीत में बहुलता, लोकतंत्र, समावेशीकरण, सबको समान अवसर, प्रेस की आजादी, मानवाधिकारी जैसे मूल्यों पर बात हुई।

By Editor


Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/naukarshahi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420