BJP-JDU में नामों पर मंथन, राजद प्रत्याशियों ने कर दिया नामांकन

BJP-JDU में नामों पर मंथन, राजद प्रत्याशियों ने कर दिया नामांकन

राजद के तीन प्रत्याशियों ने विधान परषिद चुनाव के लिए नामांकन कर दिया। BJP-JDU में अब तक नामों पर ही मंथन। महागठबंधन ने दिया बेहतर समन्वय का संदेश।

आज बिहार विधान परिषद चुनाव के लिए राजद के तीन प्रत्याशियों ने नामांकन कर दिया। एनडीए में अब तक प्रत्याशियों के नामों पर मंथन ही चल रहा है। राजद प्रत्याशियों के नामांकन के अवसर पर खुद लालू प्रसाद, तेजस्वी यादव और सभी वामदलों के नेता-विधायक मौजूद थे। इस तरह महागठबंधन ने आज यह संदेश देने की कोशिश की उसमें पूरी तरह समन्वय है। एनडीए में अब तक सीटों के बंटवारे का काम ही पूरा नहीं हो पाया है।

विधायकों की संख्या के हिसाब से महाठबंधन को तीन और एनडीए को चार सीटें मिल सकती हैं। जदयू-भाजपा में अब तक सीटों का बंटवारा नहीं हुआ है, वहीं जीतनराम मांझी की पार्टी भी चाहती है कि उसे एक सीट दी जाए। चुनाव सात सीटों के लिए हो रहा है। मतदान 20 जून को होना तय है।

बिहार विधान परिषद के द्विवार्षिक चुनाव 2022 के लिए राजद उम्मीदवार के रूप में अशोक पाण्डेय, मुन्नी रजक और मो. कारी सोहैब ने आज नामांकन पत्र दाखिल कर दिया। इस अवसर पर राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव, राष्ट्रीय महासचिव भोला यादव, माले नेता केडी यादव और सीपीआई-सीपीएम के नेता भी शामिल थे। वाम दलों का साथ आना भी खास है, क्योंकि पहले माले ने एक सीट की मांग की थी। माले ने सीट नहीं दिए जाने पर आपत्ति भी जताई थी। लेकिन लगता है, राजद ने वाम दलों को मना लिया। तीनों वाम दलों के साथ आने से राजद के तीनों प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चित हो गई है।

एनडीए चार सीटों पर चुनाव जीत सकता है। जीत के लिए 31 विधायक चाहिए। पेंच यह है कि विधायकों की संख्या के हिसाब से भाजपा तीन सीट लेना चाहती है, जबकि जदयू चाहता है कि 50-50 सीटों का बंटवारा हो।

Arab देशों की नाराजगी अंग्रेजी में है, हिंदी अखबारों से गायब

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*