BPSC (PT) दो पाली में लेने का विरोध, आंदोलन की राह पर अभ्यर्थी

BPSC (PT) दो पाली में लेने का विरोध, आंदोलन की राह पर अभ्यर्थी

पटना में हजारों अभ्यर्थियों ने BPSC के सामने प्रदर्शन किया। अभ्यर्थी दो पाली में पीटी लेने और परसेंटाइल सिस्टम वापस लेने की मांग कर रहे हैं।

बीपीएससी (पीटी) दो पाली में लेने का निर्णय विवादों में आ गया है। आज हजारों छात्र-छात्राओं तथा आइसा सहित कई संगठनों ने दो पाली में पीटी लेने तथा रिजल्ट में परसेंटाइस सिस्टम लागू करने के खिलाफ बीपीएससी मुख्यालय के सामने जमकर प्रदर्शन किया। पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया, जिसमें कई युवा घायल हो गए हैं।

छात्र-युवाओं की मांग है कि पीटी एक ही पाली में ली जाए तथा परसेंटाइल सिस्टम रद्द किया जाए। दो पाली में परीक्षा लेने तथा परसेंटाइल सिस्टम के जरिये रिजल्ट को नॉरमलाइज करने में पारदर्शिता नहीं रह जाती और कई पिछले दरवाजे खुल जाते हैं। भ्रष्ट तरीके से प्रवेश पर पाबंदी लगाने के लिए जरूरी है कि परीक्षा एक ही पाली में हो।

बीपीएससी के सामने हुए प्रदर्शन में आइसा के दिव्यम, नीरज यादव, आदित्य रंजन व अनिमेष चंदन भी मौजूद थे। इन्होंने नौकरशाही डॉट कॉम को बताया कि बीपीएससी पीटी की परीक्षा को दो पाली में लेने के निर्णय के खिलाफ आज पटना में बीपीएससी अभ्यार्थियों पर लाठीचार्ज किया गया। आइसा निंदा करता है। साथ ही आइसा मांग करता है कि बीपीएससी (पीटी) की परीक्षा को एक पाली में लिया जाय व बीपीएससी अभ्यार्थियों के हित कदम उठाते हुए बिहार सरकार पर्सेंटाइल का नियम वापस ले।

भाकपा माले विधायक संदीप सौरभ भी बीपीएससी कार्यालय के सामने प्रदर्शन कर रहे छात्र-छात्राओं से मिलने पहुंचे। उन्होंने #BPSC अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज की निंदा की। उन्होंने उपमुख्यमं6ी तेजस्वी यादव को टैग करते हुए ट्वीट किया- छात्रों की मांग वाजिब है कि परीक्षा को दो शिफ्ट में लेकर परसेंटाइल के आधार पर रिजल्ट बनाने का निर्णय रद्द किया जाए। इसमें पारदर्शिता का अभाव व धांधली की गुंजाइश अधिक है!

सोशल मीडिया पर #BPSC_PT_IN_ONE_SHIFT ट्रेंड कर रहा है। खबर लिखे जाने तक लाख से अधिक ट्वीट हो चुके हैं।

KCR नीतीश से मिले, अभी से भाजपा में छटपटी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*