चाचा-भतीजा ने BJP को बताई औकात, कहा आपके पास बचा क्या है

चाचा-भतीजा ने BJP को बताई औकात, कहा आपके पास बचा क्या है

टीवी चैनलों के सामने गरजनेवाले भाजपा नोताओं को आज चाचा-भतीजा ने औकात बता दी। कहा-बिहार के सारे दल हमारे साथ हैं, आपके पास बचा क्या है।

बिहार विधानसभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विश्वास का मत जीत लिया है। विधानसभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने टीवी चैनलों के सामने गरजनेवाले भाजपा नेताओं की बोलती बंद कर दी। कहा, बिहार के सारे दल हमारे साथ हैं। अब आपके पास बचा ही क्या है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि हमारे कार्य को केंद्र सरकार अपना काम बताने में लगी है। नल-जल योजना बिहार सरकार की योजना है। केंद्र से कहा गया कि आप मान लीजिए कि यह योजना केंद्र की है। इसी तरह बिहार के गांव-गांव में सड़क हमारी योजना का परिणाम है। इसे भी भाजपा को लोग केंद्र की योजना बताने में लगे हैं। नीतीश कुमार ने कहा कि हमने केंद्र सरकार से पटना विवि को केंद्रीय विवि बनाने का आग्रह किया। इसे भी भाजपा की केंद्र सरकार ने पूरा नहीं किया। उन्होंने भाजपा से पूछा कि आजादी की लड़ाई में संघ क्यों शामिल नहीं हुआ।

उधर तेजस्वी यादव ने धारदार तरीके से और तथ्यों के साथ भाजपा पर हमला किया। कहा कि गुरुग्राम में जिस मॉल को उनका बताया जा रहा है, वह उनका नहीं है। उसका उद्घाटन भाजपा केएक सांसद ने किया है। सीबीआई और ईडी से डराने की कोशिश हो रही है, पर वे डरनेवाले नहीं है। उन्होंने कहा कि महागठबंधन सरकार बनने के बाद प्रदेश में जो लोग अमन चाहते हैं, उनमें उम्मीद जगी है। केंद्र सरकार ने बिहार के लिए जो भी वादा किया, उसमें कोई पूरा नहीं किया। बिहार ने BJP को जोरदार झटका दिया है। बिहार ने पूरे देश में यह भरोसा जगाया है कि रोजगार न देनेवाली, महंगाई बढ़ानेवाली तथा नफरत की राजनीति करने वाली भाजपा को हराया जा सकता है। बिहार ने यह भी भरोसा दिया है कि सीबीआई और ईडी से सच की आवाज नहीं दबाई जा सकती है।

हम के संरक्षक पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने भी नीतीश सरकार का समर्थन करते हुए भाजपा की आलोचना की। इस बीच बिहार विधान परिषद के सभापति पद के लिए जदयू नेता देवेश चंद्र ठाकुर अपना नामांकन दाखिल किया। प्रस्तावक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, रीना देवी, केदारनाथ पांडेय, रामचंद्र पूर्वे एवं डॉ. मदन मोहन झा उपस्थित रहे।

2024 की तैयारी : अडानी ने छल से खरीदी NDTV में हिस्सेदारी