पूर्व मंत्री स्व बृजबिहारी प्रसाद की वैश्य महासभा ने मनाई जयंती

पूर्व मंत्री स्व बृजबिहारी प्रसाद की वैश्य महासभा ने मनाई जयंती

राष्ट्रीय वैश्य महासभा ने वैश्य रत्न पूर्व मंत्री स्व. बृजबिहारी प्रसाद का जयंती समारोह मनाया। आदमकद प्रतिमा लगाने तथा वैश्य आयोग गठित करने की मांग की।

कार्यक्रम का उद्घाटन करते राजद नेता और विधायक आलोक कुमार मेबता

राष्ट्रीय वैश्य महासभा द्वारा वैश्य रत्न बिहार सरकार के पूर्व मंत्री स्व. बृजबिहारी प्रसाद जी के जयंती समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता राष्ट्रीय वैश्य महासभा के प्रदेश अध्यक्ष और विधायक समीर महासेठ ने की। सभा का संचालन महासभा के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ पी.के.चौधरी ने किया। इस अवसर पर प्रस्ताव पास कर सरकार से मांग की गई कि वैश्य समाज के प्रथम अध्यक्ष वैश्य शिरोमणि पूर्व मंत्री अमर शहीद स्व बृजबिहारी प्रसाद जी एवम पूर्व मंत्री स्व राजकुमार महासेठ जी का पटना में आदमकद प्रतिमा लगाने, वैश्य समाज पर हो रहे जुल्म अत्याचार उत्पीड़न को रोकने एवम वैश्य समाज के हित में वैश्य आयोग का गठन करने, लगातार वैश्य समाज के साथ लूट-अपहरण-हत्या-डकैती जैसी जघन्य घटनाएं हो रही हैं। वैश्य असुरक्षित हैं। जरूरतमंद वैश्य समाज के लोगों को अपने जान माल की सुरक्षा हेतु शस्त्र का लाइसेंस देने, निर्धन वैश्य समाज के छात्रों को पढ़ाई हेतु वैश्य छात्रावास बनाने तथा वैश्य समाज के मुख्य उपजाति कलवार सुरी सोनार रौनियार वर्णवाल पोद्दार केशरी को अतिपिछड़ा में शामिल करने की मांग करती है।

उद्घाटनकर्ता पूर्व सांसद पूर्व मंत्री व विधायक आलोक कुमार मेहता ने कहा कि आज वैश्य समाज देश और प्रदेश का सबसे बड़ा वर्ग है। इस वर्ग का जान माल और व्यापार की रक्षा सुरक्षा खतरे में है। इसे संरक्षित करने की आवश्यकता है। वैश्य की 56 उपजातियाँ एकजुट हुए हैं। आज वैश्य समाज राजनैतिक ही नहीं बल्कि सामाजिक रुप से एकजुट हो रहा है। स्व बृजबिहारी प्रसाद हर हमेशा वैश्य समाज के साथ साथ कमजोर वर्ग के लोगों की मदद करते थे।

महासभा के प्रदेश अध्यक्ष व विधायक समीर कुमार महासेठ ने कहा कि वैश्य समाज एक बार पुनः अपनी चट्टानी एकता को प्रदर्शित करेगा । आज बृजबिहारी प्रसाद जी की जयंती को हमलोग सामाजिक एकता दिवस के रूप में मना रहे हैं । उनकी प्रेरणा ने आज हमें समाज के लिए कुछ कर गुजरने की शक्ति देता है। हम आज के दिन में यह प्रतिज्ञा करते हैं कि आजीवन वैश्य समाज एवं वंचित समाज के उत्थान के लिए काम करते रहेंगे ।

प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष डॉ पीके चौधरी ने कहा कि आने वाले समय मे जिला से लेकर पांचायत तक संगठन को मजबूत कर वैश्य समाज के सर्वांगीण विकास के लिए लगातार संर्घष की रूपरेखा तैयार करेंगे और वैश्य व्यवसायी वर्ग के उत्थान के लिए लगातार काम करना है।

विधायक डॉक्टर मुकेश रौशन ने कहा कि बृजबिहारी प्रसाद जी एक ऐसे महापुरुष थे जिन्होंने नगर पालिका से लेकर प्रदेश के मंत्री के रुप मे सेवा किया । वे हमेशा ही वैश्य समाज के साथ साथ कमजोर वर्ग के लोगों को मदद करने का काम करते रहे । उनका यह काम उनको और बड़ा और बड़ा करता चला गया । महासभा के प्रदेश युवा अध्यक्ष मंजीत आनन्द साहू ने कहा कि वैश्य व्यवसायी समाज की आपराधिक घटनाओं में होने वाली हत्या की वारदात से पीड़ित परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने तथा व्यवसायियों के हत्या के मामले की त्वरित जांच एवं ठोस करवाई के लिए स्पेशल टास्क फोर्स का गठन करने की मांग के लिए वैश्य समाज संघर्ष करेगा ।

पूर्व विधान पार्षद आजाद गांधी ने कहा की आज वंचित समाज को एकजुट होने की सबसे बड़ी जरूरत है। बिहार के पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम ने कहा कि वैश्य और व्यवसायी समाज के लिए जहां कहीं भी जरूरत पड़ेगी उनके लिए हमेशा ही तत्परता के साथ खड़े मिलेंगे । सभा के मुख्य प्रवक्ता शिवशंकर विक्रांत द्वारा पांच सूत्रीय प्रस्ताव लाया जिसे ध्वनि मत से पारित किया गया ।

सभा को सम्बोधित करने वालों में राजद के प्रवक्ता चितरंजन गगन, जदयू व्यवस्यायिक प्रकोष्ठ प्रदेश अध्यक्ष कमल नेपानी, आरा के पूर्व जिला परिषद अध्यक्ष हकीम प्रसाद, सारण के पूर्व जिला परिषद अध्यक्ष धर्मेंद्र साह, मोहन गुप्ता, राम सागर प्रसाद, जीतेंद्र साहू, बेगूसराय निगम के पूर्व मेयर आलोक अग्रवाल, कन्हैया पोद्दार, अमित भगत, कुणाल भगत, अशोक चौधरी, किशोर लहेरी, हेमंत भगत, दिलीप चौधरी, ललन साह, राकेश जयसवाल, राधेश्याम प्रसाद, सीमा गुप्ता, उदय शंकर शाह, श्यामसुंदर प्रसाद, ठाकरे साह, बजरंग गुप्ता, रामाधार प्रसाद, राजेश केसरी, रवि रंजन प्रसाद, चंद्रिका साह, रौशन गुप्ता, गोविंद साह, अमन आर्यन, डॉ राजेश रौशन, कामेश्वर प्रसाद , सुशील चौधरी सहित बड़ी संख्या में लोगों ने सम्बोधित किया और स्व बृजबिहारी प्रसाद जी के योगदान पर चर्चा किया । धन्यवाद ज्ञापन कार्यालय प्रभारी जितेंद्र शर्मा ने किया।

PFI केस : नुरुद्दीन की पत्नी बोलीं-पति को झूठे केस में फंसाया गया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*