हरियाणा में हिंसा पर अमेरिका ने दिया बयान, की शांति की अपील

हरियाणा में हिंसा पर अमेरिका ने दिया बयान, की शांति की अपील। चार दिन बाद में तनाव जारी। शनिवार तक के लिए इंटरनेट सेवाएं बंद।

हरियाणा के नूह और गुड़गावं में हिंसा और आगजनी के बाद प्रदेश के कई इलाकों में तनाव फैल गया है। राज्य में शनिवार तक के लिए इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं। इस बीच अमेरिका ने हरियाणा में सांप्रदायिक हिंसा पर चिंता जताई है। अमेरिकी प्रवक्ता मैथ्यू मिलर ने हिरायणा के सभी संप्रदायों से शांति की अपील की है। मैथ्यू ने यह भी कहा कि अमेरिका भारत और पाकिस्तान में रिश्ते सामान्य करने के लिए बातचीत का पक्षधर है। वह चाहता है कि दोनों पक्ष बातचीत शुरू करें।

मालूम हो कि हरियाणा में सांप्रदायिक हिंसा में अब तक छह लोग मारे जा चुके हैं। सांप्रदायिक हिंसा की शुरुआत नूह से हुई, जहां बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद ने यात्रा निकाली थी। उनके पास हथियार भी थे और वे मुस्लिम समुदाय के खिलाफ उग्र नारे लगा रहे थे। घटना में पुलिस प्रशासन की विफलता सामने आई है। घटना को रोका जा सकता था, पर पुलिस ने समय पर कार्रवाई नहीं की। इससे पहले बरेली में एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने दंगा भड़काने की कोशिश को विफल कर दिया था। हालांकि उन्हें इसके बाद तबादला कर दिया गया, जिसकी बहुत आलोचना भी हुई और हो रही है। हरियाणा के कई इलाकों में मुस्लिमों को धमकी दी जा रही है कि वे शहर छोड़कर चले जाएं। झुग्गी में रहने वाले गरीब मुस्लिम कई इलाकों से पलायन कर गए हैं। ऐसी खबरें और वीडियो डिजिटल मीडिया पर देखी जा सकती हैं।

हरियाणा में सांप्रदायिक हिंसा पर अमेरिका के बयान पर कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। पत्रकार प्रशांत टंडन ने कहा-अमेरिका ने नूह में हिंसा पर बयान दिया है और मुकेश अंबानी के इस नफ़रती चैनल को चलाना भी पड़ रहा है। अमेरिकी कंपनियों के हेडऑफिस हैं गुड़गांव में। दंगाई उनके दरवाज़े पहुंच गये, और उन्हे मालूम है कि इन्हे राजनीतिक संरक्षण भी है। दंगे, कर्फ्यू और इंटरनेट शटडाउन के राज्य में कब तक रहेंगे। कई लोगों ने यह भी कहा कि मुकेश अंबानी दुबई में दफ्तर खोल कर मुस्लिम देशों के साथ व्यापार कर रहे हैं और उनका टीवी चैनल भारत में मुस्लिम विरोधी माहौल बनाने में दिन-रात नफरत फैला रहा है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे की दे दी इजाजत

By Editor


Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/naukarshahi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420