जहांगीरपुरी : भारत सरकार का मुस्लिमों के खिलाफ जंग का एलान

जहांगीरपुरी : भारत सरकार का मुस्लिमों के खिलाफ जंग का एलान

जहांगीरपुरी में मुस्लिमों के घर- दुकान, मस्जिद पर बुलडोजर चला। इसमें सबसे खतरनाक पक्ष यह है कि सुप्रीम कोर्ट के स्टे आर्डर को भी सरकार ने नहीं माना।

लगता है भारत सरकार ने अपने ही देश की जनता के खिलाफ युद्ध छेड़ दिया है। दिल्ली के जहांगीरपुरी में एमसीडी ने अतिक्रमण हटाने के नाम पर चुन-चुन कर मुस्लिमों की दुकानों तथा मस्जिद पर बुलडोजर चलाए। हद तो यह है कि देश के सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बावजूद बुलडोजर चलता रहा। इसे राज्य (सत्ता) का अपने ही नागरिकों के एक हिस्से, अल्पसंख्यकों के खिलाफ युद्ध न कहा जाए, तो क्या कहा जाए! दुकानदार दुबारा दौड़कर कोर्ट पहुंचे। बताया कि आपके आदेश के बावजूद बुलडोजर चल रहे हैं। कोर्ट ने हाथों हाथ आर्डर भिजवाया। इस बीच सीपीएम नेता वृंदा करात बुलडोजर के सामने खड़ी हो गई। उसके बाद मुश्किल से बुलडोजर रुका।

मीडिया के बड़े रिपोर्टर भी मौजूद थे। अंजना ओम कश्यप भी वहां से लाइव प्रसारण कर रही थीं। जब लोगों ने अंजना ओम कश्यप से कहा कि मस्जिद के बगल में मंदिर है। वह भी अतिक्रमण में आता है, उस पर बुलडोजर क्यों नहीं चल रहा है। तो अंजना वहां से खिसक गई। सोशल मीडिया में भाजपा, भारत सरकार और मीडिया के एक हिस्से की भूमिका पर भी सवाल उठ रहे हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने जहांगीरपुरी में मुस्लिम दुकानदारों की आजीविका पर बुलडोजर चलाने पर कहा कि यह देश के संविधान पर बुलडोजर चलाया गया है। राज्य (सत्ता) अपने ही देश के गरीबों और अल्पसंख्यकों हमला कर रहा है। भाजपा को बुलडोजर चलाना है तो अपने भीतर की नफरत पर चलाए।

राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा-चीन ने हमारी सीमा में दो गाँव बसा लिए लेकिन बुलडोज़र तो दूर इनकी हिम्मत नहीं उसके बारे में दो शब्द भी बोल सकें। बुलडोजर सिर्फ जाति धर्म देख कर ही चलायेंगे या राष्ट्र की एकता,अखंडता व संविधान की भी चिंता करेंगे? अगर अवैध निर्माण है तो इतने वर्षों तक शासन/प्रशासन क्या कर रहा था?

बिहार की बदहाली से दुखी तेजस्वी, कही दिल की बात

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*