जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक 29 जून को दिल्ली में होगी। अभी तक बैठक का एजेंडा सामने नहीं आया है, लेकिन माना जा रहा है कि कोई-न-कोई बड़ा फैसला होगा। पिछले साल दिसंबर में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक भी दिल्ली में ही हुई थी, जिसमें राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने पद छोड़ा था और खुद नीतीश कुमार राष्ट्रीय अध्यक्ष बने थे। इस बार माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य को देखते हुए एक कार्यकारी अध्यक्ष का चुनाव हो सकता है। पार्टी में कई नेताओं ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बेटे निशांत कुमार को पार्टी पदाधिकारी बनाए जाने की मांग की है।

जदयू सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष राज्य सभा सदस्य संजय झा को बनाया जा सकता है। उनके केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने की संभावना थी, लेकिन एक ही कैबिनेट मंत्री का पद मिलने से ललन सिंह को मौका मिला। अब पार्टी में संतुलन बनाए रखने के लिए संजय झा को कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया जा सकता है।

इससे पहले भी ऐसा हो चुका है। जब आरसीपी सिंह केंद्रीय मंत्री बने थे, तब भी ललन सिंह के मंत्री बनने की चर्चा थी। एक ही कैबिनेट पद मिलने से ललन सिंह नहीं बन पाए था, तब नीतीश कुमार ने उन्हें पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया था।

इस बीच जदयू के कई नेताओं ने नीतीश कुमार के बेटे निशांत कुमार को पार्टी पदाधिकारी बनाए जाने की मांग की है। पार्टी महासचिव परमहंस कुमार सहित कुछ अन्य नेताओं ने निशांत कुमार से राजनीतिक विरासत संभालने की अपील की है।

———————

NDA सांसद का तनाव पैदा करनेवाला बयान, बिहार का सिर शर्म से झुका

—————–

जदयू की बैठक को लेकर हलचल तेज हो गई है। कई मीडिया ग्रुपों का कहना है कि नीतीश कुमार केंद्र की एनडीए सरकार पर दबाव बनाने के लिए कुछ नई मांग पेश कर सकते हैं। इन मांगों में जाति गणना तथा बिहार को विशेष राज्य का दर्जा भी शामिल है।

विपक्ष का नेता कौन? कांग्रेस के शीर्ष नेताओं की बैठक

By Editor


Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/naukarshahi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420