जिसका जवाब PM नहीं दे पाए, उसका जवाब सुशील मोदी ने यूं दिया

जिसका जवाब PM नहीं दे पाए, उसका जवाब सुशील मोदी ने यूं दिया

प्रधानमंत्री ने दो करोड़ रोजगार का वादा किया था। इस पर बार-बार विपक्ष घेरता है। भाजपा के किसी नेता के पास जवाब नहीं। सुशील मोदी ने दिया अद्भुत जवाब।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश से एक वादा किया था कि हर साल उनकी सरकार दो करोड़ रोजगार देगी। विपक्षी दल में बार-बार सवाल करते हैं। भाजपा के बड़े-बड़े नेता इस सवाल का जवाब नहीं दे पाते। संसद में खुद मोदी सरकार ने माना कि पिछले आठ साल में 22 करोड़ से ज्यादा नौकरी के आवेदन आए, जिसमें केवल 7.22 लाख युवकों को ही नौकरी दी गई। अब तक रोजगार का सवाल भजपा की कमजोर नस रही है, लेकिन बिहार भाजपा के नेता सुशील मोदी ने देखिए कैसे समझा दिया कि मोदी सरकार ने दो करोड़ रोजगार दे दिए हैं।

भाजपा सांसद सुशील मोदी ने कहा-भाजपा ने संसदीय चुनाव से पहले 2 करोड़ लोगों को रोजगार देने का वादा किया था और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार रेलवे, सड़क, हवाई अड्डा और बंदरगाह जैसे ढांचागत निर्माण पर लाखों करोड़ रुपये खर्च कर हर साल 2 करोड़ से ज्यादा लोगों को रोजगार दे भी रही है। हमने सरकारी नौकरी नहीं, रोजगार सृजित होंगे कहा था। इसके साथ ही मनरेगा, पीएम रोजगार सृजन योजना जैसे 2 दर्जन से ज्यादा कार्यक्रम लागू किये जा रहे हैं। केंद्र सरकार के चौतरफा प्रयास से देश में बेरोजगारी दर 6 फीसद से घट कर 4.2 फीसद पर आयी। हमने रोजगार का वादा बखूबी निभाया।

अब भाजपा सांसद से कौन पूछे कि क्या हवाई अड्डा पहले नहीं बन रहे थे कि पहले मनरेगा नहीं था। और इस तर्क पर तो भाजपा सांसद यह भी कह सकते थे कि बिहार में पौने दो साल में उन्होंने 19 लाख रोजगार भी दे दिए। आखिर बिहार में मनरेगा भी चल रहा है और पुल-पुलिये भी बन रहे हैं। खैर, भाजपा सांसद के इस जवाब से जो होना था, वही हुआ। उनके ट्वीट के जवाब में बिहार के युवा लगातार सवाल खड़ा कर रहे हैं।

सूरज सिंह राजपूत ने लिखा-आपके सरकारी योजना का कोई भी बैंक फाइनेंस नहीं करता है अगर नहीं मालूम तो ठीक से पता कीजिए ग्राउंड लेवल पर इसका भुक्तभोगी मैं खुद दो साल से हूं। डॉ राजा राम सिंह ने लिखा-मोदी सरकार बंदरगाह, रेलवे, हवाई अड्डा में रोजगार दे रही है या बेच दिया? बेचने को रोजगार कबसे कहने लगे? लालजी दीपक ने लिखा-इतने बेशर्म तो नहीं बनिए, शब्दों में जनता को उलझाने से बेहतर होता कुछ सटीक जवाब देते। जिसके लिए आप जाने जाते हैं।

नौकरी के सवाल पर प्रधानमंत्री चुप रहे, नीतीश ने किया बड़ा एलान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*