कर्पूरी जयंती पर दिखेगी पिछड़ों की ताकत, RJD का बड़ा कार्यक्रम

कर्पूरी जयंती पर दिखेगी पिछड़ों की ताकत, RJD का बड़ा कार्यक्रम

कर्पूरी जयंती पर दिखेगी पिछड़ों की ताकत, RJD का बड़ा कार्यक्रम। भाजपा के हिंदुत्व का जवाब देने की तैयारी। उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव होंगे मुख्य वक्ता।

एक तरफ पूरी भाजपा राममंदिर को राजनीतिक मुद्दा बना रही है दूसरी तरफ राजद पिछड़ों-अतिपिछड़ों, दलितों और अल्पसंख्यकों के नेता कर्पूरी ठाकुर की जयंती 24 जनववरी को नौकरी, रोजगार, आरक्षण की बात करेगा। चार लाख नियोजित शिक्षकों को राज्यकर्मी का दर्जा देने की बात करेगा।

राजद के पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव श्याम रजक, बिहार प्रदेश राजद के प्रधान महासचिव रणविजय साहू एवं प्रदेश प्रवक्ता एजाज अहमद ने शनिवार को बताया कि जननायक कर्पूरी ठाकुर जी का जन्मशताब्दी समारोहपूर्वक दिनांक 24 जनवरी 2024 को पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में मनाया जाएगा। इस अवसर पर राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद, बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव सहित राजद के अन्य वरिष्ठ नेता सहित राज्यभर से कार्यकर्ता समारोह में शामिल होंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह करेंगे।

रणविजय साहू ने कहा कि बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने कर्पूरी जी के विचारों को मजबूती प्रदान करते हुए बिहार में 1931 के बाद पहली बार जातीय गणना कराई। गरीबों, शोषितों, वंचितों, पिछड़ों, अति पिछड़ों, अनुसूचित जाति -जनजाति के साथ अल्पसंख्यक समाज को हक और अधिकार देने के प्रति महागठबंधन सरकार काम कर रही है। बिहार में 75% आरक्षण की व्यवस्था की गई है। बिहार कैबिनेट से प्रस्ताव के माध्यम से नवमीं अनुसूची इस आरक्षण व्यवस्था को शामिल कराने के लिए केंद्र सरकार के पास जो प्रस्ताव भेजा गया है ,उसपर अब तक केंद्र सरकार चुप्पी साधे हुए है। इस मामले पर केंद्र सरकार के मंत्री और नेता के द्वारा चुप्पी साधा जाना यह स्पष्ट करता है कि केंद्र सरकार इसके प्रति किस तरह की सोच है।
‌‌इन्होंने आगे कहा कि बिहार में महागठबंधन सरकार ने अति पिछड़ा वर्ग के आरक्षण को 18% से बढ़ाकर 25% करने का जो ऐतिहासिक फैसला लिया है। अति -पिछड़ें समाज को मान -सम्मान देने के प्रति राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद का का जो संकल्प रहा है उसे महागठबंधन सरकार मजबूती प्रदान कर रही है।

इन्होंने आगे कहा कि जननायक कर्पूरी ठाकुर के जन्मशताब्दी वर्ष में केंद्र सरकार जननायक कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिए जाने की घोषणा करनी चाहिए ,जिससे कि कर्पूरी जी के विचारों को और उनके आदर्शों को बल मिल सके। संवाददाता सम्मेलन में पूर्व विधायक दीनानाथ सिंह यादव, प्रदेश महासचिव मुकुंद सिंह, भाई अरुण कुमार, प्रमोद कुमार राम सहित अन्य उपस्थित थे।

मीडिया ने पिछड़ों-अतिपिछड़ों की राजनीति के खिलाफ रची थी साजिश