कुशवाहा की पत्नी ने शराबबंदी का किया समर्थन, JDU ने ली चुटकी

रालोजद के राजगीर चिंतन शिवर में गजब हुआ। उपेंद्र कुशवाहा कुशवाहा की पत्नी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सराहनी कर दी। जदयू ने कुशवाहा पर ली चुटकी।

राष्ट्रीय लोक जनता दल (रालोजद) के राजगीर चिंतन शिवर में पार्टी प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा कुशवाहा की पत्नी स्नेहलता ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सराहनी कर दी। उन्होंने कहा कि पार्टी को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सहयोग देना चाहिए, ताकि शराबबंदी कानून अच्छे से लागू हो। याद रहे उपेंद्र कुशवाहा शराबबंदी कानून को विफल बताते हुए इस पर विचार करने की सलाह देते रहे हैं। सेनहलता ने कहा कि शराब बहुत बुरी चीज है, और इस पर रोक लगा कर मुख्यमंत्री ने सही किया है। कुशवाहा की पत्नी के ऐसा कहने पर जदयू ने कुशवाहा को घेरा है।

जदयू के प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा ने कहा-शराबबंदी के विषय में अनाप-शनाप बयानबाजी करने से पहले उपेन्द्र कुशवाहा को कम से कम अपने घर में विचार-विमर्श कर लेना चाहिए। एक तरफ उनकी धर्मपत्नी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के शराबबंदी कानून की सराहना करती है और दूसरी तरफ उपेन्द्र कुशवाहा शराबबंदी की आलोचना कर बिहार की करोड़ों महिलाओं की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करते हैं।
प्रदेश अध्यक्ष ने आगे कहा कि यह बेहतर होता की उपेंद्र कुशवाहा भाजपा के चरणों में नतमस्तक होने से पहले अपने परिवार वालों की सहमति प्रदान कर लेते लेकिन व्यक्तिगत महत्वकांक्षा के नशे में लीन उपेन्द्र कुशवाहा को किसी की भी परवाह नहीं है। माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने जिस व्यक्ति को बिहार की राजनीति में पहचान दिलाई और कई बार उन्हें सम्मानजनक पद दिया, आज उसी व्यक्ति के खिलाफ उपेन्द्र कुशवाहा मोर्चेबंदी कर रहे हैं।

आगे उन्होंने कहा कि हमारे नेता नीतीश कुमार ने उन्हे वर्ष 2000 में विधायक बनाया, उसके पश्चात उन्हें विधानसभा का उपनेता एवं बाद में बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष बनाने का काम किया वर्ष 2010 में वो आदरणीय नेता नीतीश कुमार जी के आशीर्वाद से राज्यसभा के सदस्य बने। उसके बाद भी वे हमेशा व्यक्तिगत स्वार्थ में हमेशा इधर-उधर आते जाते रहे। वर्ष-2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में स्वयं एवं उनकी पार्टी बुरी तरह पिट गये थे उसके बाद भी मुख्यमंत्री ने उन्हे विधान परिषद का सदस्य बनाने का काम किया। परन्तु आज अपने व्यक्तिगत हित को साधने के लिए वो भाजपा के इशारे पर बिहार में दलित और शोषित समाज को भड़काने की कोशिश में लगें हुए हैं।

तीसरा ठग गिरफ्तार, गुजरात CMO का अधिकारी बता किया रेप

By Editor