महुआ मोइत्रा की संसद सदस्यता खत्म, भिड़ गईं मोइत्रा

महुआ मोइत्रा की संसद सदस्यता खत्म, भिड़ गईं मोइत्रा

महुआ मोइत्रा की संसद सदस्यता खत्म, भिड़ गईं मोइत्रा। मोइत्रा ने कहा कि मुस्लिम सांसद को गाली देने वाले पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। मुझ पर पैसे लेने का आरोप साबित नहीं।

लोकसभा में TMC सांसद महुआ मोइत्रा की संसद सदस्यता खत्म कर दी गई है। इस संबंध में शुक्रवार को लोकसभा से प्रस्ताव पारित हो गया। इसके बाद लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने मोइत्रा की संसद सदस्यता खत्म होने की जानकारी दी। उधर मोइत्रा ने अपने खिलाफ कार्रवाई पर विरोध जताया है। उन्होंने कहा कि लोकसभा की आचार समिति को मेरी सदस्यता खत्म करने का निर्णय लेने का कोई अधिकार नही है। निर्णय के बाद सोशल मीडिया पर #MahuaMoitra लगातार पहले नंबर पर ट्रेंड कर रहा है।

सदस्यता खत्म किए जाने के बाद मोइत्रा ने संसद परिसर में मीडिया से बात करते हुए कहा कि आचार समिति को मेरे खिलाफ निर्णय लेने का कोई अधिकार नहीं हैं। उन्होंने भाजपा पर हमला करते हुए कहा मेरी सदस्यता रद्द करना भाजपा के अंत की शुरुआत साबित होगा। मुझ पर पैसा लेकर सवाल पूछने का आरोप बिल्कुल गलत है। आचार समिति के पास इस संबंध में कोई तथ्य नहीं है कि मैने पैसे लिए। जहां तक अपना मेल पासवर्ड देने का सवाल है, तो सांसद को पब्लिक से सवाल लेने का हक है। उन्होंने कहा कि भाजपा सांसद रमेश विधूड़ी ने एक मुस्लिम सांसद को भड़ुआ, कटुआ क्या-क्या नहीं कहा, पर उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई। भाजपा महिला सांसद की आवाज को दबाना चाहती है। वह इसमें सफल नहीं होगी।

मोइत्रा की संसद सदस्यता खत्म करने का सभी विपक्षी दलों ने विरोध किया है। खुद मोइत्रा ने जिस तरह कड़ा विरोध किया है, उससे स्पष्ट है कि वह अडानी के खिलाफ, भाजपा के खिलाफ अपना अभियान जारी रखेंगी। उन्होंने कहा कि देश की संपत्ति अडानी के हाथों बेची जा रही है। वे इसका विरोध जारी रखेंगी। बंगाल में टीएमसी के कई नेताओं ने मोइत्रा की संसद सदस्यता खत्म करने पर विरोध जताया है। खुद ममता बनर्जी कह चुकी हैं कि संसद सदस्यता खत्म करने से मोइत्रा का कद बढ़ेगा। अब देखना है कि बंगाल में टीएमसी कैसे इसे मुद्दा बनाती है।

गिरिराज सिंह को महुआ मोइत्रा ने क्यों कहा बेशर्म आदमी