मनुवाद और हिंदू राष्ट्र के खिलाफ थे आंबेडकर : राजद

मनुवाद और हिंदू राष्ट्र के खिलाफ थे आंबेडकर : राजद

आज राजद ने बाबा साहेब आंबेडकर जयंती पर भाजपा और संघ पर जमकर हमला किया। बाबा साहेब मनुवाद और हिंदू राष्ट्र के खिलाफ थे। वे धर्मनिरपेक्षता के साथ थे।

बाबा साहेब आंबेडकर जयंती पर राजद के प्रदेश अध्यक्ष श्री जगदानन्द सिंह ने कहा कि बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेदकर के जीवन भर के संघर्ष का परिणाम है भारत के संविधान का निर्माण। जहां भारत के संविधान में समाजवाद और धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र की बातें वर्णित है, उसकी जगह अब हिन्दू राष्ट्र की बातें करके समाजवाद को कहां उखाड़कर ले जाया जा रहा है, यह समझने की आवश्यकता है। आज अम्बेदकर साहब के चित्र पर नहीं बल्कि उनके चरित्र को आत्मसात करने की आवश्यकता है। भारत का संविधान जब तक मजबूत रहेगा अम्बेदकर जी के विचारों को कोई समाप्त नहीं कर सकता। देश की पहचान एकता में अनेकता की रही है।

आज राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश कार्यालय में संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेदकर की 131वीं जयंती अनुसूचित जाति/जनजाति प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष अनिल कुमार साधु की अध्यक्षता में मनायी गई। इस अवसर पर पूर्व मंत्री रामलखन राम रमण को राजद के प्रदेश अध्यक्ष श्री जगदानन्द सिंह ने पार्टी की सदस्यता दी।

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री शिवानंद तिवारी ने कहा कि अम्बेदकर के विचारों को आगे बढ़ाने के लिए उन शक्तियों के सामने खड़ा होना होगा जो देश को एक धर्म का देश बनाकर कमजोर करने का वातावरण बना रहे हैं। इसके लिए डॉ0 भीमराव अम्बेदकर, महात्मा गांधी, डॉ0 लोहिया, लोक नायक जयप्रकाश नारायण, जननायक कर्पूरी ठाकुर के विचारों पर चलने वालों को एक साथ आगे आना होगा। यही एक माध्यम भारतीय संविधान की रक्षा का।

इन्होंने आगे कहा कि बाबा साहब डॉ0 भीमराव अम्बेदकर और महात्मा गांधी के समकक्ष नीतीश कुमार को विज्ञापन में एक साथ दिखाने पर कहा कि नीतीश जी यह सब करके आपको अच्छा लग रहा है। क्यों इस तरह की बातें करवाकर आप अपनी तौहीन करा रहे हैं। आखिर आप इन महापुरूषों से अपनी तुलना कराकर क्या हासिल कर लेंगे?

राष्ट्रीय प्रधान महासचिव अब्दुलबारी सिद्दिकी ने कहा कि देश में संविधान और लोकतंत्र के खिलाफ एक साजिश चल रही है। और इस साजिश को कहीं न कहीं उन्हीं लोगों के द्वारा चलाया जा रहा है जो आज सत्ता में बैठे हुए हैं। देश के न्याय और संविधान के विपरीत कार्य हो रहा है। जिससे शोषित, वंचित, दलित और अल्पसंख्यक समाज में भय का वातावरण है। ऐसी साजिशों के खिलाफ एकजुट होना होगा। इस अवसर पर पार्टी प्रवक्ता चितरंजन गगन सहित अनेक नेता मौजूद थे।

बनारस में अजान के वक्त पांच बार बजाएंगे हनुमान चालीसा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*