मुश्किल में योगी, अब आया 2022 के लिए 22 सवाल

मुश्किल में योगी, अब आया 2022 के लिए 22 सवाल

यूपी विधानसभा चुनाव में भाजपा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं। किसान आंदोलन के बाद आया 2022 में 22 सवाल।

कुमार अनिल

किसान आंदोलन खत्म होने के बाद उत्तर प्रदेश में भाजपा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अभी ठीक से राहत की सांस भी नहीं ले पाए थे कि राज्य के युवाओं ने आंदोलन की घोषणा कर दी। युवा हल्ला बोल के नाम से चर्चित बेरोजगारी के खिलाफ आंदोलन चलाने वाले युवा हल्ला बोल ने जनवरी से आंदोलन की घोषणा कर दी है।

बेरोजगार युवाओं की तरफ से युवा हल्ला बोल ने आज 2022 के लिए 22 सवाल जारी किओ। संगठन ने सोशल मीडिया पर आज से #युवाओं_की_यूपी कैंपेन की शुरुआत की। संगठन ने लखनऊ में एक प्रेस वार्ता करके आंदोलन की जानकारी दी।

युवा हल्ला बोल के राष्ट्रीय महासचिव रजत यादव ने कहा कि प्रदेश में युवा महापंचायतें की जाएंगी। रजत यादव ने ट्वीट किया-आज लखनऊ में #युवाओं_की_यूपी कैंपेन का एलान हुआ. राष्ट्रीय अध्यक्ष @AnupamConnects के साथ प्रेस वार्ता करके “2022 के लिए 22 सवाल” पर्चा जारी किया. ‘राष्ट्रीय युवा दिवस’ 12 जनवरी 2022 से शुरू होगा प्रदेश भर में युवा महापंचायत का दौर।

संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुपम ने ट्वीट किया-प्रदेशव्यापी यात्रा के जरिए जिलावार बैठकें और 12 जनवरी के बाद युवा महापंचायतों का आयोजन होगा। कोशिश है यूपी चुनाव ‘पढ़ाई कमाई दवाई’ जैसे मुद्दों पर हो, रोजगार पर बात हो और युवाओं का एजेंडा हो।

22 सवालों में पहला सवाल है बढ़ती बेरोजगारी के बावजूद योगी सरकार में 32 लाख युवाओं को मौका क्यों नहीं? दूसरा सवाल है-पिछले चुनाव में वादा करने के बाद भी पांच लाख से अधिक सरकारी पद खाली रहने के बावजूद नौकरी क्यों नहीं दी गई? देश के टॉप 100 कालेजों में यूपी का एक भी कालेज नहीं है, इस पर भी संगठन ने सरकार को घेरा है। अस्पतालों में कर्मियों की कमी जैसे सवाल भी उठाए हैं। सभी 22 सवाल आप युवा हल्ला बोल पर देख सकते हैं।

झारखंड और बिहार की ब्यूरोक्रैसी में बड़ा फर्क, घाटे में बिहार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*