नवादा में नहीं आती बाढ़, फिर भी सीएम कर रहे हवाई सर्वेक्षण

नवादा में नहीं आती बाढ़, फिर भी सीएम कर रहे हवाई सर्वेक्षण

नवादा सूखा के लिए जाना जाता है, नालंदा में भी इस बार बाढ़ की तबाही नहीं है, फिर भी मुख्यमंत्री ने इन जिलों का हवाई सर्वेक्षण किया, तो राजद ने उठाया सवाल।

आज जदयू के एक ट्वीट से विवाद खड़ा हो गया। जदयू ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की एक तस्वीर शेयर की, जिसमें वे हवाई सर्वेक्षण कर रहे हैं। जदयू ने लिखा कि मुख्यमंत्री ने आज बाढ़ प्रभावित नालंदा, नवादा और पटना जिले का दौरा किया। जो फोटो शेयर किया गया है, उसमें भी सभी खेतों में पानी नहीं दिख रहा है। यही तस्वीर आईपीआरडी बिहार ने भी सेयर की है। उसने भी लिखा है कि मुख्यमंत्री ने नालंदा-नवादा के बाढ़ग्रस्त क्षेत्र का दौरा किया।

राजद प्रवक्ता चितरंजन गगन ने कहा कि नालंदा में बाढ़ नहीं आई, फिर भी मुख्यमंत्री जिले का हवाई सर्वेक्षण कर रहे हैं। यह सिर्फ उनका एक जिला से प्रेम दिखाता है। राजद पहले भी कहता रहा है कि मुख्यमंत्री सिर्फ एक जिले के मुख्यमंत्री हैं। राजद प्रवक्ता ने कहा कि उन्होंने जिले के साथियों से बात की, तो कहीं से बाढ़ की तबाही की कोई खबर नहीं है। नवादा तो सूखाग्रस्त क्षेत्र के रूप में सभी जाना जाता है। वहां से भी बाढ़ की कोई खबर नहीं है।

राजद प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री का हवाई सर्वेक्षण सिर्फ दिखावा है। उत्तर बिहार में बाढ़ आती है, लेकिन मुख्यमंत्री नवादा-नालंदा में हवाई सर्वेक्षण कर रहे हैं, जिसका एक इलाका पठारी है।

नौकरशाही डॉट कॉम ने आज का नालंदा का अखबार देखा, उसमें भी बाढ़ की एक भी खबर नहीं थी। दैनिक भास्कर के बिहारशरीफ संस्करण में चंडी के एक सूखे खेत का फोटो है, जहां बिजली का तार गिरने से लोग परेशान हैं।

मैदान में कूदे मोदी व अखिलेश, गरमा गई चुनावी सियासत

राजद ने पूछा कि मुख्यमंत्री से पूछा कि वे बताएं कि नालंदा के कितने प्रखंड बाढ़ में डूबे हैं। वे यह बताएं कि नवादा का कौन-सा प्रखंड बाढ़ में डूबा है। सरकार सिर्फ दिखावा कर रही है।

महंगाई के खिलाफ मुख्यमंत्री के गृहजिला पहुंचा IYC का कारवां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*