नीतीश-तेजस्वी में खटपट की अफवाह, जल्द मिलेगा करारा जवाब

नीतीश-तेजस्वी में खटपट की अफवाह, जल्द मिलेगा करारा जवाब

राजनीतिक गलियारे में एक अफवाह तेज है कि नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव में खटपट हो गई है। राजद और जदयू ने कहा, जल्द मिलेगा करारा जवाब।

बिहार विधानसभा की दो सीटों मोकामा और गोपालगंज में 3 नवंबर को उपचुनाव है। दोनों सीटों पर मपागठबंधन प्रत्याशी के रूप में राजद प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। इस बीच राजनीतिक गलियारे में एक अफवाह है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव में खटपट चल रही है। राजद और जदयू दोनों ने कहा कि अफवाह फैलाने वालों को जल्द मिलेगा करारा जवाब।

गोपालगंज में राजद प्रत्याशी मोहन प्रसाद गुप्ता और मोकामा में नीलम देवी के प्रचार में राजद से पीछे नहीं है जदयू। जदयू के प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा मंगलवार को गोपालगंज में थे। उनके साथ सांसद और कई प्रमुख नेता थे। उन्होंने कई गांवों में जन-संवाद किया। आज बुधवार को जदयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने मोकामा में राजद प्रत्याशी नीलम देवी के लिए कई मुहल्लों में जन संपर्क किया। जदयू के दो बड़े नेताओं के राजद के पक्ष में मैदान में उतरने से ही साफ है कि नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव में खटपट की बात में कोई दम नहीं है।

इस बीच राजद और जदयू सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यंमत्री तेजस्वी यादव एक नवंबर को साथ-साथ मोकामा और गोपालगंज में चुनावी रैली को संबोधित करेंगे। महागठबंधन के सारे दल दोनों प्रमुख नेताओं की रैली की सफलता के लिए कार्य कर रहे हैं। उस दिन खटपट की अफवाह का करारा जवाब मिल जाएगा। तेजस्वी यादव 28 को गोपालगंज का दौरा करेंगे।

राजद और जदयू दोनों दलों की कोशिश है कि दोनों सीटों पर महागठबंधन की जीत हो, ताकि देश भर में भाजपा के खिलाफ संदेश दिया जा सके। भाजपा विरोधी मोर्चा के तौर पर बिहार मॉडल पहले से चर्चा में है। दोनों सीटों पर जीत से विपक्षी एकता को बल मिलेगा।

शपथ से पहले जगजीवन राम के समाधि स्थल पर पहुंचे खड़गे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*