परीक्षा में पूछा, गांधीजी ने आत्महत्या कैसे की, राजद बिफरा

परीक्षा में पूछा, गांधीजी ने आत्महत्या कैसे की, राजद बिफरा

भाजपा का नया इतिहास लेखन जारी है। गुजरात में स्कूल की परीक्षा में बच्चों से पूछा गया-महात्मा गांधी ने आत्महत्या कैसे की। राजद ने भजपा को कहा गद्दार।

भाजपा बच्चों के दिमाग में किस प्रकार झूठ बो रही है, इसका उदाहरण तब मिला, जब गुजरात के स्कूलों में बच्चों से पूछा गया सवाल सामने आया। नौंवी कक्षा के बच्चों की परीक्षा में पूछा गया था कि महात्मा गांधी ने किस प्रकार आत्महत्या की? इस खबर के सोशल मीडिया में आते ही देश में बवाल हो गया। राजद ने करारा हमाल करते हुए भाजपा को देश का गद्दार करार दिया। आज राजनाथ सिंह का एक झूठ भी चर्चा में है।

राजद ने अखबार की कतरन के साथ ट्वीट किया-गुजरात सरकार की गुजरात के ही राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और देश के साथ ग़द्दारी। मोदी और भाजपा सरकार देश का समृद्ध इतिहास मिटाने पर तुली है। देश के पहले आतंकवादी गोडसे और अंग्रेजों के दलाल माफ़ीवीर सावरकर के ये संघी भाजपाई पुजारी देश को बर्बाद कर देंगे। जागो साथियों, जागो।

बच्चों से इस सवाल का अर्थ है कि भाजपा नहीं चाहती कि बच्चे यह जानें कि गोडसे ने गांधी की गोली मार कर हत्या की थी। गोडसे आकएसएस के विचारों का हिमायती था। वह गांधी की हत्या के पहले सावरकर से भी मिला था, जिसे भाजपा वाले देशभक्त बताते हैं।

भाकपा माले नेता धीरेंद्र झा ने कहा- गुजरात में नौनिहालों के साथ कैसा मज़ाक हो रहा है?क्या pm की विचारधारा को प्रमोट करने के लिए चमचागिरी में तो ऐसी हरकत नही हो रही है? क्या pm को राष्ट्रपिता के इस अपमान की चर्चा मन की बात में नही करनी चाहिए!

आज केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह का एक झूठ भी सोशल मीडिया में छाया है। उन्होंने कहा कि गांधी जी के कहने पर ही सावरकर ने अंग्रेजों से माफी मांगी थी। कई इतिहासकारों ने उन्हें घेर लिया। खुद गांधी बार-बार जेल गए, लेकिन उन्होंने कभी माफी नहीं मांगी। नेहरू सहित हजारों नेता बार-बार जेल गए, किसी ने मापी नहीं मांगी।

पाठकों को क्रेडिबल हिस्ट्री तथा अशोक कुमार पांडेय का ट्विटर हैंडल देखना चाहिए। यहां विस्तार से बताया गया है। क्रेडिबल हिस्ट्री लिखता है-संघियों की समस्या यह है कि ले देकर एक बंदा है अपना जो अंग्रेज़ों के खिलाफ़ था – सावरकर। वह भी पहली गिरफ़्तारी के छः महीने के भीतर माफ़ी मांगने लगा। माफी भी गिड़गिड़ा गिड़गिड़ा कर। छूटने के बाद सारी देशभक्ति भूलकर ब्रिटिश एजेंट बन गया। क्या कहें, दया आती है। इस
वीडियो लिंक _ https://youtu.be/cgSiRsUYTOU पर आप पूरी जानकारी पा सकते हैं।

लखीमपुर, बनारस, लखनऊ के बाद राष्ट्रपति भवन पहुंची कांग्रेस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*