Pegasus : अरसे बाद पूरा विपक्ष एकजुट, निशाने पर मोदी

Pegasus : अरसे बाद पूरा विपक्ष एकजुट, निशाने पर मोदी

मोदी सरकार के सात साल के कार्यकाल में विपक्ष कभी इतना एकजुट नहीं हुआ। आज भी नहीं चली संसद। Pegasus मामले पर सारे दलों ने मोदी से पूछा एक ही सवाल।

आज सारे विपक्षी दलों ने संसद के भीतर और बाहर एकजुट होकर प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोला। कल प्रधानमंत्री मोदी ने भाजपा सांसदों को संबोधित करते हुए विपक्ष पर आरोप लगाया था कि वह संसद चलने नहीं दे रहा। भाजपा सांसद इसका पर्दाफाश करें।

आज संसद परिसर में देश के सारे विपक्षी दलों ने प्रधानमंत्री के उस आरोप को खारिज किया कि विपक्ष संसद चलने नहीं दे रहा। सबने एक सुर में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी पेगासस मामले में बहस से भाग रहे हैं।

सारे विपक्षी दलों का कहना था कि पेगासस जासूसी मामला देश की सुरक्षा का सवाल है। इससे महत्वपूर्ण कोई दूसरा सवाल हो नहीं सकता। प्रधानमंत्री मोदी जासूसी मामले पर चर्चा से क्यों भाग रहे हैं। पूरी दुनिया इस पर चिंता जता रही है। कई देशों ने जांच शुरू कर दी है। लेकिन देश की मोदी सरकार न जांच का आदेश दे रही है, न इस पर संसद में चर्चा करने को तैयार है।

इससे पहले आज सारे विपक्षी दलों की बैठक हुई, जिसमें पेगासस जासूसी और तीन कृषि कानूनों पर दोनों सदनों में एक साथ सरकार को घेरने की रणनीति बनी।

संसद परिसर में प्रेस से एक-एक करके सारे विपक्षी दलों ने अपनी बात रखी। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा-हमारी आवाज को संसद में दबाया जा रहा है। हमारा सिर्फ एक सवाल है- क्या हिंदुस्तान की सरकार ने पेगासस को खरीदा, हां या ना; क्या हिंदुस्तान की सरकार ने अपने लोगों पर पेगासस हथियार का इस्तेमाल किया, हां या ना। राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने देश के लोकतंत्र की आत्मा पर हमला किया है।

नीतीश काल की महा लूट में अफसरों का महा निलम्बन

इस अवसर पर राजद के मनोज झा, शिवसेना के संजय राउत सहित आम आदमी पार्टी, सीपीआई, सीपीएम व अन्य दलों के नेताओं ने एक-एक करके प्रधानमंत्री मोदी पर सीधा हमला किया।

ब्राह्मण सम्मेलनों के दौर में RLD ने किया भाईचारा सम्मेलन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*