Pegasus मामले पर Soren बोले, देश का गर्म होना स्वाभाविक

Pegasus मामले पर Soren बोले, देश का गर्म होना स्वाभाविक

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने Pegasus Spyware मामले पर कहा कि मुद्दा ही ऐसा है। देश का गर्म होना लाजिमी है। चंपई सोरेन ने भी निशाना साधा।

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन मोदी सरकार की नीतियों पर खुल कर बोलते रहे हैं। पेगासस जासूसी मामले में पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि विरोधी दलों के नेताओं, पत्रकारों से लेकर जज तक के फोन में घुसकर जासूसी करना मुद्दा ही ऐसा है कि देश का गर्म होना लाजिमी है। निजता का हनन है। सही मायने में पूछा जाए कि देश की दिशा क्या है, तो अंदाजा लगाना मुश्किल है।

जब उनसे दैनिक भास्कर, भारत समाचार और द वायर जैसे मीडिया संस्थानों पर छापे की बाबत पूछा गया, तो उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार पर सीधा हमला करते हुए कहा कि सही मायने में देश की सभी संवैधानिक संस्थाएं आज केंद्र सरकार के हथियार के रूप में काम कर रही हैं।

झारखंड सरकार के वरिष्ठ मंत्री चंपई सोरेन ने भी साफ शब्दों में केंद्र की मोदी सरकार को घेरा। उन्होंने कहा- राफेल मामला सामने आते ही फ्रांस ने जांच शुरू करवा दी, लेकिन यहां जांच तक नहीं हुई, तो फिर ईमानदार कौन है? सबको 15 लाख देने से शुरू हुआ जुमला चीन के मुद्दे पर झूठ बोलने, कोरोना मुद्दे पर देश को गुमराह करने, मीडिया को धमकाने, और किसानों को गरियाने तक, पूरी बेशर्मी से जारी है।

अमेरिका भी बोला, पत्रकारों पर जासूसी तकनीक का इस्तेमाल गलत

पेगासस मामले में झामुमो के वरिष्ठ नेताओं के खुलकर बोलने से झारखंड में भी मोबाइल से जासूसी का मामला गरमा गया है। झामुमो के अनेक कार्यकर्ता केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ ट्वीट कर रहे हैं। उधर विधायक और पार्टी की वरिष्ठ नेता सीता सोरेन ने ट्वीट किया-अपनी परंपरा, संस्कृति और पूर्वजों द्वारा दी गई शिक्षा को संरक्षित रखने की जिम्मेदारी हमारी है कई ताकतें आदिवासी परम्परा और संस्कृति को खत्म करने की कोशिश करते रहे है लेकिन आदिवासी समाज का इतिहास बहुत लम्बा है. अपने धरोहरों को संरक्षित रखना हमे बखूबी आता है।

राजस्थान के मीणा आदिवासी भाजपा से क्यों हुए नाराज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*