PM ने फाइटर प्लेन Tejas में भरी उड़ान, कांग्रेस ने उठाया सवाल

PM ने फाइटर प्लेन Tejas में भरी उड़ान, कांग्रेस ने उठाया सवाल

PM ने फाइटर प्लेन Tejas में भरी उड़ान, कांग्रेस ने उठाया सवाल। प्रधानमंत्री ने खुद ट्वीट कर आछ फोटो शेयर किए। कांग्रेस ने पूछा बादलों में किसे हाथ हिला रहे?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को फाइटर प्लेन तेजस में उड़ान भरी। उन्होंने खुद हिंदी और अंग्रेजी में ट्वीट करके अपने इस अनुभव की जानकारी दी, साथ ही अपनी आठ तस्वीरें भी शेयर की हैं। युवा कांग्रेस के अध्यक्ष बीवी श्रीनिवास ने उनका एक वीडियो शेयर किया, जिसमें प्रधानमंत्री बादलों के ऊपर से उड़ान भरते दिख रहे हैं। वे हाथ हिला हिला रहे हैं। इस पर युवा कांग्रेस अध्यक्ष ने सवाल किया कि बादलों के ऊपर उड़ते हुए किसे हाथ हिला रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने बेंगलुरू में उड़ान भरी। उन्होंने ट्वीट किया-मैं आज तेजस में उड़ान भरते हुए अत्यंत गर्व के साथ कह सकता हूं कि हमारी मेहनत और लगन के कारण हम आत्मनिर्भरता के क्षेत्र में विश्व में किसी से कम नहीं हैं। भारतीय वायुसेना, DRDO और HAL के साथ ही समस्त भारतवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं। इसी के साथ किसी तेजस फाइटर प्लेन में उड़ान भरने वाले नरेंद्र मोदी पहले प्रधानमंत्री बन गए हैं। तेजस में उड़ान भरने से पहले प्रधानमंत्री बेंगलुरु स्थित हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) भी पहुंचे। लड़ाकू विमान तेजस को HAL ने डेवलप किया है। यह सिंगल इंजन वाला हल्का लड़ाकू विमान है। अब तक वायुसेना में इसकी दो स्क्वॉ़ड्रन शामिल हो चुकी हैं।

युवा कांग्रेस अध्यक्ष ने लिखा- बादलों के ऊपर पहली बार किसी को हाथ हिलाते देखा है। क्या आप किसी और ‘पनौती’ को जानते हैं जो हवाई जहाज में बैठकर कैमरे के लिए ये सब करता हो?

एक दिन पहले जम्मू-कश्मीर में शहीद कैप्टन एमवी प्रांजल का पार्थिव शरीर बेंगलुरू पहुंचा था। शुक्रवार को शहीद अधिकारी को कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दारमैया ने श्रद्धांजलि दी थी। मौके पर राज्यपाल भी मौजूद थे।

इधर सोशल मीडिया में लगातार #Tejas पहले नंबर पर ट्रेंड कर रहा है। जहां भाजपा नेता प्रधानमंत्री मोदी की इस उड़ान को गौरवपूर्ण क्षण बता रहे हैं, वहीं विपक्ष के नेता तथा भाजपा विरोधी इसे फोटो शूट कह रहे हैं। पत्रकार नीरज झा ने लिखा-धूप टशन है, रात टशन है, अपनी तो हर बात, टशन है, जैसे हों “हालात”, टशन है…. सुरंग में कुछ मज़दूर फंसे हुए हैं। इस भरी दुख को अंदर दबाकर भी ये फ़ोटो-ओप कर पाना केवल मोदी जी के वश की बात है।

नीतीश ने मेडिकल कॉलेज का किया शिलान्यास, फिर मांगा विशेष दर्जा