पूर्णिया, सुपौल से लोग पूछ रहे हमारे जिले कब आओगे प्रशांत किशोर

पूर्णिया, सुपौल से लोग पूछ रहे हमारे जिले कब आओगे प्रशांत किशोर

जन सुराज के संस्थापक प्रशांत किशोर छपरा, सीवान में गांव-गांव घूम रहे। पूर्णिया, सुपौल, समस्तीपुर से लोग पूछ रहे हमारे जिले कब आओगे प्रशांत किशोर?

कभी बड़े-बड़े नेताओं के लिए चुनावी जीत की रणनीति बनाने वाले प्रशांत किशोर बिहार के गांव-गांव में लोगों से संपर्क कर रहे हैं। पटना का मीडिया भले ही उनके अभियान को छापने से डर रहा है, लेकिन उनका समर्थन बढ़ता जा रहा है। वे छपरा-सीवान-गोपालगंज में लोगों से मिल रहे हैं, जबकि सुपौल, समस्तीपुर, पूर्णिया से लोग संदेश भेज रहे हैं कि हमारे जिले में भी आइए। हम आपके साथ हैं। कई लोगों ने पूछा है कि हमारे जिले कब आइएगा?

प्रशांत किशोर को भले ही मीडिया जगह नहीं दे रहा है, लेकिन लोग उन्हें अपने घर, दालान, खेत-खलिहान में जगह दे रहे हैं। इसे देखना हो तो जन सुराज के पेज पर जाइए। नौकरशाही डॉट कॉम ने लोगों की प्रतिक्रिया नोट की। 99 प्रतिशत लोग प्रशांत किशोर को अपना समर्थन दे रहे हैं। एक प्रतिशत वह लोग हैं, जिन्हें अब भी लगता है कि शायद बिहार को बदलना संभव नहीं है।

प्रशांत किशोर ने एक दिन पहले छपरा में प्रेस से बात करते हुए अपना विचार साझा किया। जन सुराज के पेज पर यह पोस्ट है, जिसे दो हजार लोगों ने लाइक किया है। 130 लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया दी है, जिनमें सबने अपना समर्थन जाहिर किया है।

पूर्णिया के मो. सिद्दीक ने लिखा है कि हम आपके साथ हैं। हमारे जिले में जरूर आइए। बिपुल बंकटेश लिखते हैं-सर मैं भी आपके साथ कुछ दूर ही सही लेकिन चलूंगा जरूर। चंद्रभूषण वर्मा ने लिखा-प्रशान्त किशोर किसान, मजदूर सभी के विचार लेकर बिहार के विकास के लिए समर्पित हैं। सभी बिहारवासी योगदान करने की कृपा करें।

नीरज कुमार ने लिखा-मैं नीरज कुमार, प्रखंड सरायगढ़, भपटियाही पंचायत, लालगंज जिला सुपौल से हूं। मैं आपसे जुड़ना चाहता हूं और मिलना चाहता हूं। आपके साथ चलना चाहता हूं।

जुबैर की गिरफ्तारी पर जर्मन विदेश मंत्रालय की तल्ख टिप्पणी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*