दिल्ली में आप सरकार के मंत्री Raaj Kumar Anand ने मंत्री पद और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया और भाजपा में शामिल हो गए। उनके यहां पिछले दिनों ED का छापा पड़ा था। पार्टी से इस्तीफा देने पर उनकी विधायकी भी चली गई। आप सांसद संजय सिंह ने जब छापा पड़ा तो भाजपा नेताओं ने Raaj Kumar Anand भ्रष्ट कहा था। अब उन्हें पार्टी में शामिल कर लिया, तो वे स्वच्छ हो गए।

दिल्ली में पत्रकारों से बात करते हुए संजय सिंह ने कहा कि जब राजकुमार आनंद बीजेपी में शामिल हो रहे होंगे तब एक सवाल तो पूछा जाना चाहिए कि जब इनके यहां 23 घंटे तक ED का छापा पड़ रहा था, तब पूरी BJP इन्हें बेईमान बता रही थी और अब ये जब बीजेपी में शामिल होंगे तो ईमानदार हो गए?

आप नेता सोमनाथ भारती ने कहा कल शाम को करीब 6:41 बजे मेरे साथ हुई बातचीत में राजकुमार आनंद जी ने भाजपा द्वारा कराई जा रही ईडी रेड के कारण हुई परेशानी की बात कही थी और बहुत दुखी थे। उनका आम आदमी पार्टी से इस्तीफा सिर्फ और सिर्फ भाजपा शासित ईडी के द्वारा उन्हें दिया जा रहा प्रताड़ना है और कुछ भी नही। इतना ही कह सकता हूं की ऑपरेशन लोटस का पहला शिकार दिल्ली में राजकुमार आनंद जी हुए मुझे इस बात का दुख रहेगा। यह वक्त है चट्टान की तरह अपने पार्टी और नेता श्री अरविंद केजरीवाल जी के साथ रहने का।

भोजपुरी एक्टर पवन सिंह काराकट से निर्दलीय लड़ेंगे, फंस गए कुशवाहा

आप नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा-सबको पता है कि राजकुमार आनंद के घर पर ED का छापा पड़ा था। वे दबाव में थे और डरे हुए थे। वो हमेशा कहते थे कि जैसे ही Active होता हूँ, इनका Phone आ जाता है। वो ज़्यादा दबाव में आ गये हमें उनसे कोई शिकायत नहीं है। उन्हें एक स्क्रिप्ट दी गई थी और उनके पास इसे पढ़ने के अलावा कोई विकल्प नहीं था। अरविंद केजरीवाल जी हमेशा कहते थे कि BJP की ED का मक़सद जाँच नहीं है बल्कि उनकी गिरफ्तारी के बाद पार्टी को तोड़ना और दिल्ली और पंजाब की सरकार को गिराना है।

कोर्ट सख्त, रामदेव को रगड़ दिया, ड्रग कंट्रोलर की भी जाएगी कुर्सी

By Editor