‘राम की तिजोरी’ में चोरी से आक्रामक हुआ JMM

राम की तिजोरी में चोरी से आक्रामक हुआ JMM

राम मंदिर के चंदे की चोरी पर झारखंड के मंत्री चंपई सोरेन ने भाजपा को उसी के नारे से ‘पीट’ किया। झामुमो ने बाबूलाल मरांडी से कहा-चोरों का पक्ष मत लीजिए।

अयोध्या में राम मंदिर निर्णाण के लिए दो करोड़ की जमीन 18 करोड़ में खरीदने की खबर से झारखंड की राजनीति भी गरमा गई है। एक समय भाजपा समर्थक नारा लगाते थे, जो राम का नहीं, वह देश का नहीं। आज झारखंड के मंत्री चंपई सोरेन ने भाजपा को उसी के नारे से घेर लिया। कहा-राम नाम की लूट है, लूट सके तो लूट… इस दोहे को लिखते समय शायद कबीर दास जी ने भी नहीं सोचा होगा कि कलियुग में कुछ पापी सचमुच में प्रभु श्रीराम जी के मंदिर के नाम पर घोटाला कर देंगे। मेरा सवाल एकदम सीधा है कि जो श्रीराम का नहीं हुआ, वो किसी और का क्या होगा?

उधर, राम मंदिर निर्माण में घपले के आरोप के बाद पूर्व मुख्यमंत्री बाबू लाल मरांडी बचाव में आए। उन्होंने दो करोड़ की जमीन 18 करोड़ में खरीदने पर कोई सफाई या तर्क नहीं दिया, लेकिन कहा कि मंदिर निर्माण के लिए बने ट्रस्ट के सभी सदस्यों पर उन्हें विश्वास है। बदनाम करने के लिए आरोप लगाया जा रहा है।

मरांडी के जवाब में झारखंड मुक्ति मोर्चा ने कड़ा प्रतिवाद किया। ट्वीट किया- अब भगवान श्री राम मंदिर निर्माण में हुई चोरी और चोरों को बचाने में लग गए .@yourBabulal जी। और कितना गिरेंगे आप ? एक राजस्व कर्मचारी भी यह गड़बड़ी बता सकता है की 5.79 लाख की सर्किल रेट वाली ज़मीन 5 मिनट पहले 2 करोड़ में कैसे बिकी? और पाँच मिनट बाद 18.5 करोड़ की कैसे हो गयी।

यूपी में कांग्रेसियों ने लगाया नारा-चंदा चोर, गद्दी छोड़, कई गिरफ्तार

झामुमो ने मरांडी से पूछा, जो समझ एक राजस्व कर्मचारी को हो सकता है – वह आपको क्यूं नहीं ? जबकि आप कई बरसों तक CM रहे, डॉमिसायल की आग में पूरे प्रदेश को धकेला। अगर उस समय आपने प्रदेश की नींव मजबूत रखी होती तो आज झारखंड विकास की नयी परिभाषा लिख रहे होते।

चाचा के धोखे के बाद अब क्या करेंगे चिराग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*