राजद; माफ कीजिए राष्ट्रपतिजी आपकी सैलरी तो करमुक्त है

राजद; माफ कीजिए राष्ट्रपतिजी आपकी सैलरी तो करमुक्त है

राष्ट्रपपति रामनाथ कोविंद के हर महीने पौने तीन लाख रुपये टैक्स कटने के बयान पर राष्ट्रीय जनता दल ने कानून की किताब के हवाले से बता दिया है कि उनकी सैलरी करमुक्त है.

गौरतलब है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपने पैतृक गांव के दौरे पर पहुंच कर लोगों से कहा था कि उनकी सैलरी पांच लाख रुपये प्रति महीना है लेकिन उसमें पौने तीन लाख रुपये तो टैक्स में कट जाता है. उनसे ज्यादा बचत तो टीचर की होती है.

Haque Ki Baat; तेजस्वी का ऑफर और चिराग की दुविधा

राष्ट्रपति के इस बयान पर देश भर में खूब चर्चा होने लगी है. इस बीच राष्ट्रीय जनता दल ने अपने ट्विटर अकाउंट पर उन तथ्यों को रख दिया है जिसमें बताया गया है कि राष्ट्रपति की सैलरी पांच लाख रुपये प्रति माह है जो कि पूर्णरूप से करमुक्त यानी टैक्स फ्री है.

राजद ने ट्वीट करके कहा– महामहिम जी, माफ़ कीजिए। आपको स्टार प्रचारक नहीं बनना चाहिए। क्या एक टीचर को राष्ट्रपति वाली सुविधाएँ फ़्री में मिलती है? क्या राष्ट्रपति की सैलरी करमुक्त नहीं है?

दर आसल राष्ट्रपति की सैलरी के अलावा उन्हें हाउसिंग और मेडिकल की सुविधा दी जाती है. साथ ही राष्ट्रपति के स्टाफ और और भोजन तथा अन्य रखरखाओ पर दो करोड़ 2करोड 25 लाख रुपये सालाना खर्च हो ते हैं.

राष्ट्रपति की सैलरी के सिलसिले में नवीनतम बात यह है कि उन्होंने कोरोना संकट काल में अपनी सैलरी में 30 प्रतिशत की कटौती खुद अपनी मर्जी से की है. इसी तरह की कटौती तमाम राज्यपालों, सांसदों ने भी पिछले साल से उनकी सैलरी में कटौती की गयी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*