रोहिंग्या मुसलमानों पर ऐतिहासिक घोषणा के बाद ऐतिहासिक खंडन

रोहिंग्या मुसलमानों पर ऐतिहासिक घोषणा के बाद ऐतिहासिक खंडन

मोदी सरकार के एक मंत्री ने रोहिंग्या मुसलमानों को घर और पुलिस सुरक्षा देने की देने की ऐतिहासिक घोषणा की। कुछ ही देर में गृह मंत्रालय ने कर दिया खंडन।

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ऐतिहासिक घोषणा की। उन्होंने कहा कि भारत ने हमेशा उन लोगों का स्वागत किया है, जिन्होंने भारत से शरण मांगी। एक युगांतकारी निर्णय लेते हुए सभी रोहिंग्या शरणार्थियों को दिल्ली के बाकरवाला इलाके में EWS फ्लैट में शिप्ट किया जाएगा। उन्हें बुनियादी सुविधाएं दी जाएंगी। उन्हों UNHCR ID और 24 घंटे पुलिस सुरक्षा भी दी जाएगी। केंद्रीय मंत्री का यह ट्वीट खबर लिखने तक बरकरार है।

केंद्रीय मंत्री की इस घोषणा के कुछ देर बाद ही गृह मंत्रालय ने खंडन कर दिया। द हिंदू की खबर के अनुसार गृह मंत्रालय ने कहा- मीडिया के कुछ हिस्सों में अवैध विदेशियों रोहिंग्या के बारे में खबर चल रही है, जिसके बारे में स्पष्ट किया जाता है कि गृह मंत्रालय ने इस तरह का कोई निर्देश नहीं दिया है कि अवैध रूप से रह रहे रोहिंग्या प्रवासियों के लिए दिल्ली के बाकरवाला इलाके में ईडब्ल्यूएस फ्लैट दिए जाएं। यह ट्वीट MHA के आधारिक ट्विटर हैंडल से किया गया है।

जनसत्ता के पूर्व संपादक और लेखक ओम थानवी ने केंद्रीय मंत्री तथा गृह मंत्रालय के दोनों ट्वीट की तस्वीर के साथ लिखा-“ऐतिहासिक निर्णय”। ऐतिहासिक खंडन। हिंदुस्तान की पूर्व संपादक मृणाल पांडेय ने तंज सकते हुए लिखा-इस पर हंसिग्या कि रोहिंग्या? जवाब में एक टूजर ने लिखा-भक्त लोग … रिसियांग्या !!

इधर, सोशल मीडिया में भाजपा सरकार समर्थक खासे नाराज दिख रहे हैं। कई इसे विपक्ष की साजिश बता रहे हैं। लेकिन केंद्रीय मंत्री पुरी का ट्वीट तो खबर लिखे जाने तक डिलिट नहीं किया गया है। देखना है केंद्रीय मंत्री अपनी घोषणा को कब डिलिट करते हैं, वह भी ऐतिहासिक ही होगा।

नो रेवड़ी : रेलवे में अब एक साल के बच्चे का भी लगेगा फुल टिकट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*