RRB : जहानाबाद ने रचा इतिहास, आंदोलन में लहराया तिरंगा

RRB : जहानाबाद ने रचा इतिहास, आंदोलन में लहराया तिरंगा

RRB NTPC रिजल्ट में धांधली के खिलाफ जहानाबाद ने इतिहास रच दिया। देशभर में वीडियो वायरल। बिहार ही नहीं, यूपी के गांवों तक पहुंचा। मिल रहा जबरदस्त समर्थन।

जहानाबाद के युवाओं ने अपने आंदोलन से इतिहास रच दिया। देशभर के तमाम प्रमुख विपक्षी नेता, अलग-अलग आंदोलनों के कार्यकर्ता, लेखक, पत्रकार सबका समर्थन मिल रहा है। जहानाबाद आंदोलन को उम्मीद की किरण कहा जा रहा है।

आज सुबह जैसे ही कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने जहानाबाद का वीडियो शेयर किया, उसके बाद तो देशभर से समर्थन और सुझाव की बाढ़ आ गई।

RRB NTPC रिजल्ट में धांधली के खिलाफ आज गणतंत्र दिवस पर हजारों की संख्या में जहानाबाद के युवा रेलवे ट्रैक पर उतर आए। उन्होंने रेल परिचालन ठप कर दिया। और आंदोलन के बीच रेल पटरी पर तिरंगा फहराया। राष्ट्रगान गाया। इसका वीडियो आज देशभर में वायरल हो गया।

किसान नेता और लेखक योगेंद्र यादव ने जहानाबाद का वीडियो रिट्वीट किया। उन्होंने लगातार कई ट्वीट करके समर्थन किया। लिखा-युवाओं की मांग : युवाओं पर बर्बर हमला करने वाले अधिकारी सस्पेंड हों। हिरासत में लिए युवा छोड़े जाएं, केस खारिज हों, घायलों का इलाज हो। एनटीपीसी परिणाम में गलती सुधार की घोषणा हो, वैकेंसी के 20 गुना छात्रों को मौका मिले। D ग्रुप में दो स्तरीय परीक्षा रद्द हो। उन्होंने शांतिपूर्वक आंदोलन की अपील के साथ लिखा कि हंसा होने पर विरोधी तत्व आंदोलन को बदनाम कर देंगे।

उत्तरप्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने जहानाबाद का वीडियो शेयर करते हुए लिखा-बेरोजगारी अब युवाओं पर भारी पड़ रही है। सालों की मेहनत, अथाह खर्च, महंगाई और वर्षों का इंतजार झेल रहे युवाओं ने मोर्चा खोल दिया है। रोजगार मांग युवाओं का हक है, उन पर लाठियां बरसाने वाली बर्बर सरकार को जाना होगा।

कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष और कवि इमरान प्रतापगढ़ी ने जहानाबाद का वीडियो शेयर करते हुए लिखा- अहा ! क्या अद्भुत दृष्य है…….राष्ट्रगान। एनडीटीवी के पत्रकार उमाशंकर सिंह ने जहानाबाद का एक दूसरा वीडियो शेयर करते हुए लिखा-परीक्षार्थियों का प्रदर्शन बढ़ता जा रहा है। पश्चिमी चूपी में प्रभाव रखनेवाले राष्ट्रीय लोकदल ने भी कई ट्वीट करके बिहार के आंदोलन का समर्थन किया। इसने कई वीडियो भी शेयर किए हैं।

RRB NTPC : 36 घंटे में क्यों झुक गई मोदी सरकार