शराबबंदी : 60 हजार लोगों पर कार्रवाई, बिहार से बाहर के 90 धराए

शराबबंदी : 60 हजार लोगों पर कार्रवाई, बिहार से बाहर के 90 धराए

बिहार में Liquor ban में छह महीने में 60 हजार से अधिक लोगों पर कार्रवाई हुई है। बिहार से बाहर के 90 स्पालयर गिरफ्तार। मंत्री ने दी जानकारी।

बिहार में Liquor ban पर सरकार पहले से ज्यादा सख्ती करने जा रही है। मद्य निषेध, उत्पाद एवं निबंधन मंत्री सुनील कुमार ने बुधवार को प्रेस वार्ता में बताया कि शराबबंदी कानून तोड़ने पर पिछले छह महीने में 60 हजार से अधिक लोगों पर कार्रवाई हुई है। राज्य सरकार बिहार से बाहर के सप्लायरों के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है। बिहार से बाहर अन्य प्रदेशों के 90 स्पालयर गिरफ्तार किए गए हैं।

मंत्री ने बताया कि विभाग शराब की सप्लाई चेन को ध्वस्त करने पर विशेष ध्यान दे रहा है। कई लोगों को 5 से 10 वर्ष तक की सजा हुई है। शराबबंदी कानून के उल्लंघन मामले में 20 हजार से ज्यादा लोगों की गिरफ्तारी अक्टूबर में ही हुई है। हमारा फोकस शराब के बड़े धंधेबाजों को सजा दिलाना है, विभिन्न राज्यों से 90 से ज्यादा शराब सप्लायर गिरफ्तार किए गए हैं। बिहार में 60 हजार लोगों पर कार्रवाई की गयी है।उन्होंने बताया कि शराब की तस्करी और इसके धंधे में लिप्त लोगों को गिरफ्तार करना और उन्हें सजा दिलाना हमलोगों की प्राथमिकता है और विभाग लगातार शराब के कारोबारियों के विरुद्ध सख्त कारवाई कर भी रहा है।

इससे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को शराबबंदी की उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक के दौरान शराब की आपूर्ति और बिक्री के खिलाफ अभियान को और तेज करने का निर्देश पुलिस व मद्यनिषेध विभाग के अधिकारियों को दिया है।

बिहार में जितनी कार्रवाई हुई है, उसमें सबसे ज्यादा राजधानी पटना में हुई है। लगभग दस प्रतिशत गिरफ्तारियां अकेले पटना में हुई हैं। पटना में कुल 5,642 लोगों को गिरफ्तार किया गया। पटना में ही सबसे ज्यादा 1.56 lakh लीटर शराब जब्त की गई है।

गुजरात के ग्रामीण इलाके में पैठ बनाने में विफल क्यों रहे केजरीवाल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*