शिक्षक नियुक्ति : 14 से होनेवाली काउंसेलिंग टली, राजद का विरोध

शिक्षक नियुक्ति : 14 से होनेवाली काउंसेलिंग टली, राजद का विरोध

बिहार में 14 दिसंबर से होनेवाली काउंसेलिंग राज्य सरकार ने टाल दी है। राजद ने नीतीश सरकार के इस फैसले का कड़ा प्रतिवाद किया है।

बिहार में शिक्षक नियुक्ति का कार्य फिर से टल गया है। राज्य सरकार ने 14 दिसंबर से होनेवाली काउंसेलिंग को रद्द कर दिया है। शिक्षा विभाग के जारी आदेश के अनुसार 14 दिसंबर से 22 दिसंबर तक होनेवाली तृतीय चक्र की काउंसेलिंग रद्द कर दी गई है। विभाग ने कोई नई तिथि भी पिलहाल जारी नहीं की है।

राजद प्रवक्ता चितरंजन गगन ने शिक्षा विभाग के इस फैसले का कड़ा प्रतिवाद किया है। उन्होंने ट्वीट किया-शिक्षक बहाली के नाम पर जारी भूलभुलैया खेल का नया एपीसोड !!! राजद प्रवक्ता गगन ने अपने ट्वीट के साथ शिक्षा विभाग का वह आदेश पत्र भी शेयर किया है, जिसमें काउंसेलिंग टालने का फैसला लिया गया है।

सरकारी आदेश में लिखा है पंचायत चुनाव संपन्न होने के बाद पंचायत प्रमुख और जिला परिषद प्रमुख का चुनाव होना है। यह चुनाव कब होगा, इस संबंध में शिक्षा विभाग ने राज्य निर्वाचन आयोग से जानकारी मांगी थी, लेकिन निर्वाचन आयोग ने जानकारी नहीं दी, इसलिए शिक्षक नियुक्ति के लिए काउंसेलिंग रद्द की जा रही है।

सवाल है कि क्या यही सुशासन है? सुशासन का अर्थ होता है कि सरकार औस शासन के विभिन्न अंगों में समन्वय हो, ताकि जन कार्य, कल्याण कार्य सुचारु रूप से हो सकें। यहां तो कोई समन्वय ही नहीं है। सवाल यह है कि शिक्षा मंत्री ने निर्वाचन आयोग से जानकारी लेने के लिए खुद कोई पहल की, कोई रुचि दिखाई? दर असल यह सरकार की राज्य में शिक्षा के प्रति नजरिया, गरीब बच्चों के प्रति नजरिये को भी बेनकाब करता है।

राजद प्रवक्ता चितरंजन गगन वर्ष 2021 में ही शिक्षक नियुक्ति प्रक्रिया पूर्ण करने की मांग करते रहे हैं, लेकिन सरकार की उदासिनता के कारण अब हजारों युवकों का भविष्य पिर से एक बार अंधेरे में चला गया है।

यूपी : प्रधानमंत्री की रैली में स्कूली बच्चे, हो रहा विरोध

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*