उद्धव के चक्रव्यूह में फंस शिंदे, स्ट्रीट फाइट शुरू, मुंबई में धारा 144

उद्धव के चक्रव्यूह में फंसे शिंदे, स्ट्रीट फाइट शुरू, मुंबई में धारा 144

अब खेल पलटने लगा। शिंदे बुरी तरह फंस गए। महाराष्ट्र की जमीन छोड़कर असम में रहना भारी पड़ रहा। स्ट्रीट फाइट शुरू। मुंबई में धारा 144।

पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र का खेल पलटने लगा है। शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एकनाथ शिंदे के खिलाफ तीन तरफ से हमला बोल दिया है। पहला, पूरे महाराष्ट्र में अब शिव सैनिक सड़कों पर उतर आए हैं। शिंदे के बेटे के दफ्तर को आज शिव सैनिकों ने तहस-नहस कर दिया, जबकि ठाणे को शिंदे का गढ़ माना जाता है। पूरे प्रदेश में शिंदे के खिलाफ नारे लगा रहे हैं। पोस्टर पर कालिख पोते जा रहे हैं। प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि शिंदे समर्थक बाला साहब नहीं, अपने बाप के नाम पर वोट मांगेंगे। शिंदे के खिलाफ शिव सैनिकों का गुस्सा अब दिखने लगा है।

उद्धव ठाकरे ने कानूनी लड़ाई भी छेड़ दी है। शिंदे समर्थक 16 विधायकों की सदस्यता रद्द करने के लिए लिखे पत्र पर विधानसभा उपाध्यक्ष ने इन विधायकों को नोटिस जारी कर दिया है। इससे उद्धव समर्थकों का मनोबल बढ़ा है।

तीसरा, उद्धव ने पार्टी पर पकड़ मजबूत बना ली है। पार्टी की एक बैठक में सारे अधिकार अध्यक्ष उद्धव ठाकरे को दे दिया गया है। जाहिर है, अब शिंदे समर्थक पार्टी से बाहर होंगे। इससे पार्टी के संगठन में टूट की कोशिश कामयाब नहीं हो पाएगा। अधितकर पदाधिकारी ठाकरे के साथ रहेंगे, तो चुनाव आयोग भी कुछ नहीं कर सकता। इस बीच आज आदित्य ठाकरे ने युवा शिव सैनिकों की रैली की।

इधर, मुंबई में बढ़ते तनाव के मद्देनजर धारा 144 लागू कर दी गई है। इस स्थिति में शिंदे समर्थकों का अपने क्षेत्र में घुसना भी मुश्किल है। केंद्र सरकार उन्हें सीआरपीएफ की सुरक्षा दे सकती है, लेकिन ये बागी क्षेत्र में जनता के बीच कैसे जाएंगे? बंगाल में भी भाजपा ने टीएमसी छोड़कर आनेवालों को सुरक्षा दी थी, लेकिन बाद में उल्टा हुआ। सबको ममता की शरण में जाना पड़ा।

BPSC पेपर लीक कांड का मास्टर माइंड निकला JDU नेता, पार्टी चुप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*