UPSC 21 : बिहार से बने नए IAS में तीन को मिला होम कैडर

UPSC 21 : बिहार से बने नए IAS में तीन को मिला होम कैडर

UPSC-2021 में सफलता के बाद आईएएस बने अधिकारियों का कैडर आवंटित हो गया है। बिहार से बने नए IAS अफसरों में तीन को मिला होम कैडर। कुल 13 IAS मिले।

यूपीएससी-2021 में सफलता पानेवाले बिहार के 14 आईएएस अधिकारियों का कैडर आवंटन हो गया है। इनमें तीन को बिहार बिहार कैडर मिला है, शेष 11 अन्य राज्यों में सेवा देंगे। बिहार के स्थानीय निवासी तीन आईएएस के अलावा बिहार को 10 और भी आईएएस अधिकारी मिले हैं। इस प्रकार प्रदेश को कुल 13 नए आईएएस अधिकारी मिले हैं।

मिल रही खबरों के अनुसार बिहार के रहने वाले जिन तीन आईएएस प्रशिक्षुओं को होम कैडर मिला है, वे हैं गौरव कुमार (रैंक 313), स्वेता भारती (रैंक 356) तथा गौरव कुमार (रैंक 406)। ये तीनों आईएएस बिहार के ही रहने वाले हैं और अब बिहार में रहकर अपनी सेवा देंगे। अन्य राज्यों के निवासी, जिन्हें बिहार आईएएस कैडर मिला है, वे हैं दिल्ली निवासी दिव्या शक्ति (रैंक 58), मध्य प्रदेश निवासी श्रेया श्री (रैंक 71), जम्मू-कश्मीर के रहने वाले पार्थ गुप्ता (रैंक 72), दिल्ली के ही आशीष कुमार (रैंक 85), उत्तर प्रदेश निवासी किसलय कश्यप (रैंक 133), यूपी के ही ऋतुराज प्रताप सिंह (रैंक 296) तथा महाराष्ट्र के काजले वैभव नीतिन (रैंक 325)। बिहार में पहले ही आईएएस अधिकारियों की कमी थी। अब नए मिले आईएएस से बिहार प्रशासन को मदद मिलेगी।

यूपीएसएसी-21 में सफलता के बाद आईएएस कैडर बनने वाले ये अधिकारी फिलहाल प्रशिक्षु हैं। बिहार निवासी जिन 11 आईएएस को दूसरे राज्यों में अपनी सेवा देनी है, उनमें अंशु प्रिया (रैंक 16) को राजस्थान, आशीष (रैंक 23) को मध्य प्रदेश, आयुष वेंकेट वत्स (रैंक 74) को तमिलनाडु, उमा शंकर प्रसाद (रैंक 167) को तेलंगना कैडर मिला है। बिहार निवासी कर्मवीर केशव (रैंक 170) को बंगाल, अमित रंजन (रैंक 175) को महाराष्ट्र, सोनिका कुमारी (रैंक 261) को पश्चिम बंगाल, विद्या सागर (रैंक 272) को गुजरात, राहुल आनंद (रैंक 321) को उत्तराखंड, अजीत आनंद (रैंक 324) को नागालैंड और हेमंत कुमार (रैंक 327) को मणिपुर कैडर मिला है।

बेशर्मी व बेईमानी पर उतरे मोदी, बिहार को एक गुजरात को 31 यूनिट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*