ये है असली टुकड़े-टुकड़े गैंग, गांधी की हत्या सही बता रहे

ये है असली टुकड़े-टुकड़े गैंग, गांधी की हत्या सही बता रहे

ट्विटर पर सुबह से गोडसे की जय हो रही है, गांधी की हत्या को सही बताया जा रहा है। क्या इन पर देशद्रोह का मुकदमा होगा? पहचानिए, असली टुकड़े-टुकड़े गैंग को!

ये न्यू इंडिया है। मजदूर-किसान और लोकतंत्र की बात करने पर कन्हैया कुमार पर राजद्रोह का मुकदमा हो जाता है, उमर खालिद आज भी जेल में हैं, स्टेन स्वामी जेल की सजा काटते हुए मर जाते हैं। जो देश में भाईचारे, गरीबों को न्याय, युवाओं को रोजगार और सरकार की नीतियों की आलोचना करता है, उसपर राजद्रोह का मुकदमा हो जाता है। इधर, खुलेआम सुबह से गोडसे की जय हो रही है। ट्विटर पर गांधी की हत्या को सही ठहराया जा रहा है। क्या इन पर कोई मुकदमा होगा? शायद नहीं। गोडसे की जय करनेवालों का प्रोफाइल चेक करने पर इनमें अधिकतर भाजपा समर्थक हैं।

संयुक्त राष्ट्र ने पूरी श्रद्धा के साथ गांधी को नमन किया। यूएन महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने गांधी के बताए रास्ते पर चलते हुए दुनिया में शांति पर जोर दिया। लेकिन जिस देश में गांधी का जन्म हुआ, जहां उन्होंने सत्य, अहिंसा और सत्याग्रह का प्रयोग किया और इसी के बल पर अंग्रेजी शासन से देश को आजाद कराया, उस धरती पर ट्विटर पर गोडसे ट्रेंड कर रहा है।

खबर लिखे जाने तक #नाथूराम_गोडसे_जिंदाबाद हैशटैग के साथ डेढ़ लाख ट्वीट हो चुके थे। जिन ट्विटर हैंडल से गोडसे जिंदाबाद कहा जा रहा है, उनके प्रोपाइल चेक करने पर इनमें अधिकतर खुद को सनातनी हिंदू बातानेवाले हैं, भाजपा के समर्थक हैं। अंजनी तिवारी खुद को सनातनी बताते हुए एक पोस्टर शेयर किया है, जिसमें गांधी के पैरों के निशान को लाल रंग से दिखाया गया है और बगल में कहीं भारत विभाजन लिखा है, कहीं तुष्टीकरण, कहीं झूठी अहिंसा लिखा है।

ट्विटर पर हिंसा का पक्ष लिया जा रहा है। कपड़ों से उपद्रवियों की पहचान में कई बार गलती हो जाती है, यहां तो खुलेआम हिंसा का पक्ष लिया जा रहा है। क्या इन पर ट्विटर कोई कार्रवाई करेगा?

यही नहीं, गांधी की तुलना कई लोग लाल बहादुर शास्त्री से कर रहे हैं। इस पर लेखक अशोक पांडेय ने लिखा-शास्त्री की तुलना उनके गुरु गांधी से करके शास्त्रीजी का दिल मत दुखाओ जाने दो, तुम जिन ग़द्दारों के चेले हो उनके ही गुण गाओ।

एयर इंडिया नीलाम, टाटा के गीत गा रहे भक्त, टिकैत बिगड़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*