BJP व गोदी मीडिया ने RJD के बहाने पिछड़ों की मसीहा फुले का किया अपमान

BJP व गोदी मीडिया ने RJD के बहाने पिछड़ों के मसीहा फुले का किया अपमान

BJP व गोदी मीडिया ने RJD के बहाने पिछड़ों के मसीहा फुले का किया अपमान। राजद विधायक के पोस्टर में सावित्री बाई फुले का संदेश। गोदी मीडिया की साजिश बेनकाब।

राजद प्रवक्ता मनोज झा ने पटना में कहा कि सावित्री बाई फुले के संदेश को तोड़ मरोड़ कर कर पेश किया जा रहा है। फुले ने पिछड़ों को जगाने के लिए जो बात कही, उसका आज भी महत्व है। फुले के संदेश को मंदिर विरोधी बता कर कहा जा रहा है कि राजद धर्म का विरोधी है, जबकि राजद का की नीति स्पष्ट है। वह सर्वधर्म समभाव की नीति पर चलता है। किसी धर्म के अपमान के खिलाफ है।

देश भर के पिछड़ों, दलितों में सर्वाधिक सम्मान के साथ जिनका नाम लिया जाता है, उनमें एक हैं सावित्री बाई फुले। 3 जनवरी को उनकी जयंती हैं। आज से 191 साल पहले जब वे स्कूल जाती तो उन पर पत्थर फेंके जाते, गंदगी फेंकी जाती थी। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी। वे इस देश में पिछड़े और दलित समाज की बेटियों में शिक्षा का प्रसार करने वाली पहली महिला हैं। इसके लिए उनपर तमाम किस्म के अत्याचार हुए। उन्होंने दलित-पिछड़ी जाति की बेटियों के लिए स्कूल खोला। उनकी जयंती के अवसर राजद विधायक ने एक पोस्टर लगाया, जिसमें उन्हीं का कथन लिखा है। कथन है मंदिर का रास्ता मानसिक गुलामी का रास्ता है और स्कूल का मतलब है जीवन में प्रकाश का रास्ता। इस कथन के नीचे सावित्री बाई का नाम भी लिखा है, जैसे किसी के कथन को कोट करते हुए लिखा जाता है।

अब सावित्री बाई के इसी कथन को भाजपा और गोदी मीडिया ने राम मंदिर से जोड़ दिया और खबर चलाने लगा कि राजद राम मंदिर का विरोधी है। राजद प्रवक्ता मनोज झा ने कहा कि धर्म हमारी निजी बात है। राम के प्रति श्रद्धा हमारी निजी बात है। सावित्री बाई ने पिछड़ों को जगाने के लिए वह बात कही थी, जिसका आज भी महत्व है। पोस्टर की आड़ में भाजपा और गोदी मीडिया पिछड़ों के महानायक फुले तथा सावित्री बाई फुले का अपमान कर रही है।

राजद प्रवक्ता ने कहा कि समाज को जगाने के लिए कबीर ने कहा कि पाहन पूजे हरि मिले, तो मैं पूजूं पहाड़ तो क्या कबीर की लिंचिंग कर दीजिएगा। उन्होंने यह भी कहा कि अगर सचमुच राम आज अयोध्या आ जाएं, तो वे प्रधानमंत्री से पूछेंगे कि युवकों को नौकरी क्यों नहीं मिल रही, गरीब जनता महंगाई से क्यों परेशान है। राजद प्रवक्ता ने जोर दिया कि राजद किसी धर्म, किसी देवी देवता के अपमान के खिलाफ है। राजद सर्वधर्म समभाव के रास्ते पर चलता है।

BHU गैंगरेप के तीनों आरोपी भाजपाई, कैसे बचेगी बेटी?