पूर्व IPS होंगे मिजोरम के नए CM, BJP गठबंधन सत्ता से बाहर

पूर्व IPS होंगे मिजोरम के नए CM, BJP गठबंधन सत्ता से बाहर

पूर्व IPS होंगे मिजोरम के नए CM, BJP गठबंधन सत्ता से बाहर। जोराम पीपुल्स पार्टी (ZPM) को 40 में 27 सीटों पर जीत मिली। मिजो नेशनल फ्रंट सत्ता से बाहर।

मिजोरम विधानसभा चुनाव के परिणाम आ गए हैं। जोराम पीपुल्स पार्टी (ZPM) को 40 में 27 सीटों पर जीत मिली है। इसी के साथ भाजपा गठबंधन वाला मिजो नेशनल फ्रंट (MNF) सत्ता से बाहर हो गया। जेडपीएम के नेता लाल दुहोमा मिजोरम के नए मुख्यमंत्री होंगे। वे राजनीति में आने से पहले आईपीएस अधिकारी के बौतर कार्य कर चुके हैं। जेडपीएम को स्पष्ट बहुमत मिलने के साथ ही तय हो गया कि एक पूर्व आईपीएस अधिकारी राज्य के मुख्यमंत्री बनेंगे।

मिजोरम चुनाव में जोरामथांगा (Zoramthanga) के नेतृत्व वाले एमएनएफ को 10 सीटों पर जीत मिली है। खास बात यह कि मुख्यमंत्री जोरामथांगा खुद पूर्वी आईजॉल से चुनाव हार गए हैं। यहां याद दिला दें कि मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एक मंच पर सभा करने से इनकार कर दिया था। उसके बाद पूरे चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री मोदी मिजोरम में चुनाव प्रचार करने गए ही नहीं। भाजपा ने राज्य में 23 सीटों पर प्रत्याशी उतारे थे और उसके दो प्रत्याशी जीत दर्ज करने में सफल रहे। वहीं कांग्रेस को एक सीट पर जीत हासिल करने में सफलता मिली। आम आदमी पार्टी ने चार सीटों पर प्रत्य़ाशी उतारे थे, लेकिन उसे कहीं भी जीत नहीं मिली।

जेडपीएम वही पार्टी है, जिसने देश में पहली बार चुनाव प्रचार के बाद बच गई राशि को चंदा देनेवाले को लौटा दिया था। इस तरह इस पार्टी ने चुनाव में एक उदाहरण दिया था। इसका महत्व इसलिए ज्यादा है क्योंकि आज चुनावों में धनबल की ताकत बहुत बढ़ गई है। इस स्थिति में सादगी से चुनाव लड़ना तथा बच गए रुपए दानदाताओं को लौटा देना बड़ी बात है।

मिजोरम में छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान और तेलंगाना के साथ चुनाव हुए थे। यहां सात नवंबर को मतदान हुए थे, जिनकी गिनती आज सोमवार को हुई। मिजोरम में दोनों राष्ट्रीय दल भाजपा और कांग्रेस कोई विशेष सफल नहीं रहे।

EC के निर्देश पर तेलंगाना के DGP सस्पेंड, नए ने पद संभाला