IG विकास वैभव ने गृह विभाग को भेजा 7 पन्नों का जवाब

IG विकास वैभव ने गृह विभाग को भेजा 7 पन्नों का जवाब

IG विकास वैभव ने गृह विभाग को बिंदुवार जवाब भेजा है। यह सात पन्नों में है। जवाब में उन्होंने अपने सीनियर पर गंभीर आरोप लगाए हैं। अपने ट्वीट का भी दिया जवाब।

आईजी (होमगार्ड) विकास वैभव ने गृह विभाग के अपर सचिव चैतन्य प्रसाद को नोटिस का लिखित जवाब दे दिया है। जवाब सात पन्नों में विस्तार के साथ है। बिंदुवार जवाब में आईजी विकास वैभव ने डीजी (होमगार्ड) शोभा अहोतकर पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। अब आईजी के जवाब की एसीएस (होम) समीक्षा करेंगे।

आईजी विकास वैभव ने डीजी शोभा अहोतकर दुर्व्यवहार का आरोप फिर दुहराया है। जवाब में आईजी ने लिखा है कि विभाग के अन्य कई असर भी डीजी के दुर्व्यवहार के शिकार हुए हैं। डीजी के दुर्व्यहार से परेशान विकास वैभव ने पहले ही विभाग से तबादला करने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि मानसिक रूप से परेशान हैं।

होमगार्ड में आईजी विकास वैभव ने ट्वीट करके मामले को सार्वजनिक करने पर भी अपने जवाब में सफाई दी है। उन्होंने लिखा है कि वे मानसिक रूप से इतने परेशान थे कि रात में ट्वीट करके अपनी हालत लिख दी, लेकिन कुछ ही देर में ट्वीट का डिलीट भी कर दिया। अब आईजी के जवाब की समीक्षा ग-ह विभाग के अपर मुख्य सचिव करेंगे।

मामले पर 11 फरवरी को गृह विभाग ने नोटिस जारी किया था। नोटिस मिलने के सात दिन बाद विकास वैभव ने अपना लिखित जवाब विभाग को सौंप दिया है। बिहार के बड़े आईपीएस अफसरों के बीच विवाद से प्रशासन और सरकार की बहुत किरकिरी हुई थी, जिसके बाद खुद मुख्यमंत्री ने सामने आ कर मामले में हस्तक्षेप किया था। मालूम हो कि विकास वैभव ने अपने सीनियर शोभा अहोतकर पर गाली देने, मानससिक रूप से परेशान करने, अपमानित करने का आरोप लगाया था और यहां तक कहा था कि उनके साथ अनहोनी भी हो सकती है, इसलिए उनका विभाग से तबादला किया जाए।

ML के मंच पर जुटे नीतीश, तेजस्वी, सलमान, 100 पर सिमटेगी BJP