तेजस्वी की सोशल मीडिया पर सक्रियता बढ़ी, ये है नई रणनीति

तेजस्वी की सोशल मीडिया पर सक्रियता बढ़ी, ये है नई रणनीति

तेजस्वी की सोशल मीडिया पर सक्रियता बढ़ी, ये है नई रणनीति। भाजपा विरोधी अन्य बड़े नेताओं से अलग एक पॉजिटिव रणनीति पर काम कर रहे डिप्टी सीएम।

कुमार अनिल

कुछ दिनों से उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की सोशल मीडिया पर सक्रियता बढ़ गई है। एक दिन में कई-कई पोस्टर या वीडियो जारी किए जा रहे हैं। इनमें एक खास तरह का संदेश दिया जा रहा है। ये संदेश पॉजिटिव हैं। दूसरे की निंदा से ज्यादा अपने संकल्प और अपनी उपलब्धि पर बात की जा रही है। सोशल मीडिया पर उनकी सक्रियता का यह खास पक्ष है।

ट्विटर पर आज राजद ने एक वीडियो और एक पोस्टर जारी किया है। वीडियो में बताया जा रहा है कि उपमुख्यमंत्री बनने के बाद तेजस्वी यादव ने क्या किया। लाखों युवाओं को नौकरी दी गई है। इनमें 48 फीसदी महिलाएं हैं। कमजोर वर्गों को विभिन्न तरह की सहायता दी जा रही है। आर्थिक मदद दी जा रही है। जाति आधारित गणना हुई। आरक्षण को बढ़ा कर 75 प्रतिशत किया गया है। तेजस्वी कर रहे हैं सामाजिक और आर्थिक विकास। तेजस्वी मॉडल में हर वर्ग को न्याय, सम्मान और अधिकार दिया जा रहा है। पूरे वीडियो का केंद्रीय विषय वस्तु तेजस्वी मॉडल है।

इस वीडियो से पहले राजद ने एक पोस्टर जारी किया। इसमें भी कोई नकारात्मक बात नहीं की गई है, बल्कि सकारात्मक बात की गई है। पोस्टर में मोटे अक्षरों में लिखा है-तेजस्वी की राजनीति विकास की राजनीति है। ऊपर छोटे अक्षरों में लिखा है भाजपा की राजनीति विनाश की राजनीति है। स्पष्ट है इसमें भाजपा से उनकी राजनीति की तुलना की गई है, लेकिन इसमें भी जोर अपनी बातों पर है कि वे क्या कर रहे हैं। अपने बारे में लिखा कि तेजस्वी की राजनीति विकास की राजनीति है।

इससे पहले गुरुवार को भी राजद ने ऐसे ही पोस्टर जारी किए थे, जिनमें विकास की राजनीति, अपनी उपलब्धि तथा अपने संकल्पों की चर्चा पर जोर है। पोस्टर में कहा गया है-शानदार स्वास्थ्य व्यवस्था तेजस्वी की पहचान। नीचे छोटे अक्षरों में लिखा है मुजफ्फरपुर और मधेपुरा में टेढ़े-मेढ़े पैरों का इलाज निःशुल्क किया होगा। आईजीआईएमएस में जनवरी से मुफ्त इलाज और दवा भी। जांच भी मुफ्त। ऐसी ही अन्य घोषणाओं और कार्यक्रमों की चर्चा की गई है। तो ये है तेजस्वी की सक्रियता का थीम। थीम में अपने कार्यों, अपनी उपलब्धि पर जोर है, न कि परनिंदा पर।

महुआ मोइत्रा की संसद सदस्यता खत्म, भिड़ गईं मोइत्रा