मुसलमानों के खिलाफ ज़हर उगलने वाली खुशबू पांडे पर FIR

मुसलमानों के खिलाफ ज़हर उगलने वाली खुशबू पांडे पर FIR


मुसलमानों के खिलाफ भड़काऊ भाषण देनेवाली खुशबू पांडे के खिलाफ जमुई में FIR। हाल में वायरल हुआ था था वीडियो। देशभर से गिरफ्तारी की उठी थी मांग।


बिहार की खुशबू पांडे के खिलाफ देर से ही सही पर अब एफआईआर दर्ज हो गई है। पिछले दिनों जमुई की खुशबू पांडे का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वह अल्पसंख्यकों के खिलाफ बेहद हिंसा भड़काने वाले भाषण दे रही थीं।

वह इजरायल ने जिस तरह गाजा पर हमला किया, उसी तरह हमला करने के लिए उग्र भाषण दे रही थीं। उनके साथ चल रहे लोग हाथ में तलवार लिये थे और उत्तेजक नारे लगा रहे थे।


खुशबू पांडे के उस वीडियो को देखकर देश भर से उसकी गिरफ्तारी की मांग उठी थी। राजनीतिक-सामाजिक कार्यकर्ताओं के अलावा लेखक-पत्रकारों ने भी गिरफ्तारी की मांग की थी। नौकरशाही डॉट कॉम ने भी उस खबर को प्रकाशित किया था तथा खबर को बिहार पुलिस और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तथा उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को भी सोशल मीडिया के प्लेटफॉर्म से टैग किया था।


खुशबू के भड़काऊ भाषण पर लोगों ने कहा था कि क्या बिहार सरकार दंगा भड़कने का इंतजार कर रही है।

अब तक उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। जमुई पुलिस ने खुशबू के खिलाफ धारा 153 (ए), 295 (ए), 298, 504, 506, 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है। अन्य अज्ञात 20 लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है। हालांकि अभी तक उसकी गिरफ्तारी की सूचना नहीं है।
खुशबू हिंदू स्वाभिमान संगठन से जुड़ी है। 15 नवंबर को जमुई के लक्ष्मीपुर में उसका उग्र भाषण देते हुए वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वह खुलेआम हिंसा करने के लिए लोगों का आह्वान कर रही थी।
सोशल मीडिया में अनेक लोगों ने खुशबू के खिलाफ मामला दर्ज होने पर संतोष जताया है तथा अविलंब गिरफ्तारी की मांग की है। लोगों ने कहा कि बिहार में विभिन्न धर्मों के बीच नफरत फैलाने वालों के खिलाफ तमिलनाडु पुलिस की तरह सक्रियता दिखानी होगी। लोकसभा चुनाव में अब कम समय रह गए हैं और अब ऐसे भड़काऊ भाषण दे कर राजनीतिक लाभ उठाने की कोशिश की जाएगी।