अद्भुत इंडिया, दिल्ली पुलिस ने पंजाब पुलिस पर किया अपहरण केस

अद्भुत इंडिया, दिल्ली पुलिस ने पंजाब पुलिस पर किया अपहरण केस

भारत में ऐसा कभी नहीं हुआ। पंजाब पुलिस ने दिल्ली से भाजपा नेता को गिरफ्तार किया, तो दिल्ली पुलिस ने पंजाब पुलिस के जवानों पर किया अपहरण का केस।

आप बता सकते हैं देश किधर जा रहा है? आज भाजपा नेता तेजिंदर बग्गा को पंजाब पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने पंजाब पुलिस से संवाद करने के बजाय सीधे अपहरण का केस कर दिया। अब पंजाब पुलिस के जवानों को दिल्ली पुलिस गिरफ्तार करना चाहती है। हद तो यह है कि हरियाणा में हाइवे पर एक साथ जीन-तीन जिलों के आईपीएस अधिकारियों को लगा दिया गया है कि वे पंजाब पुलिस को रोकें। पता नहीं, हरियाणा पुलिस उन्हें सिर्फ रोकेगी या उन्हें गिरफ्तार करके दिल्ली पुलिस को सौंप देगी और बग्गा को आजाद कर देगी?

भाजपा के कई नेताओं ने पंजाब पुलिस पर अभिव्यक्ति की आजादी पर हमला करने का आरोप लगाया है। बग्गा ने अरविंद केजरीवाल के खिलाफ टिप्पणी की थी। तब पंजाब में मामला दर्ज हुआ। ये नेता तब चुप थे, जब जिग्नेश मेवानी को प्रधानमंत्री मोदी पर एक ट्वीट करने के कारण असम पुलिस ने गुजरात से गिरफ्तार किया। उनके कार्यालय के स्टाफ के फोन जब्त कर लिये। असम में जेल में डाल दिया। बेल मिला, तो फिर सरासर एक झूठा एफआईआर दर्ज कर दिया कि जिग्नेश ने महिला पुलिस के साथ बदजमीजी की है। कोर्ट ने असम पुलिस को बहुत फटकारा। उस समय अभिव्यक्ति की आजादी का हनन नहीं हुआ, लेकिन बग्गा की गिरफ्तारी से अभिव्यक्ति की आजादी खतरे में पड़ गई।

लेखक अशोक कुमार पांडेय ने कहा-तमाशाइयों को गद्दी पर बिठाएंगे तो तमाशा ही देखेंगे न? “पुलिस बनाम पुलिस बनाम पुलिस जनता बनिंग फुलिस फुलिस फुलिस”। देश के वरिष्ठ पत्रकार ओम थानवी ने कहा-आप को क्यों दोष देते हैं? आप ने जो सीखा है, भाजपा से सीखा है। तेरा तुझको अर्पित, क्या लागे है मेरा। बदला । सबक़। हिसाब। भूलचूक-लेनीदेनी।

ऑनर किलिंग : हिंदू से शादी की तो भाई ने पति को पीट-पीट मारा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*