बताइए किस राज्य में CAR वाले हैं सबसे ज्यादा, गुजरात? ना..ना..।

बताइए किस राज्य में CAR वाले हैं सबसे ज्यादा, गुजरात? ना..ना..।

जरा बताइए, किस राज्य में प्रति घर के हिसाब से सबसे ज्यादा CAR वाले हैं? क्या गुजरात में? आपको जानकर आश्चर्य होगा गुजरात तो टॉप टेन राज्यों में भी नहीं है।

देश में प्रति घर के हिसाब से सबसे ज्यादा कार वाले गुजरात, महाराष्ट्र, पंजाब, हरियाणा में नहीं हैं। गुजरात तो टॉप टेन राज्यों में भी शुमार नहीं है। देश में सबसे ज्यादा कार वाले घर या घर, जिसमें कार हो, वह राज्य गोवा है। देश में पहले नंबर पर। यहां 45.2 प्रतिशत घरों में कार है। और दूसरे नंबर पर कभी वामपंथी कभी काग्रेसी राज्य केरल है, जहां 24.2 प्रतिशत घरों में कार है। तीसरे नंबर पर जम्मू-कश्मीर है। यहां के 23.7 प्रतिशत घरों में कारें हैं। चौथे नंबर पर हिमाचल प्रदेश है, जहां 22.1 प्रतिशत घरों में कारें हैं। पांचवें नंबर पर पंजाब है। यहां 21.9 प्रतिशत घरों के मालिक कारवाले हैं।

देश में सबसे कम कार वाले घर बिहार में हैं। यहां केवल 2 प्रतिशत घर मालिक कार मालिक भी हैं। देश में सर्वाधिक कार वाले घरों के मामले में छठे नंबर पर नगालैंड है, जहां 21.3 प्रतिशत घरों में कारें हैं। सातवें नंबर पर सिक्किम है, जहां 20.9 प्रतिशत घरों में कार है। आठवें नंबर पर दिल्ली ( 19.4 प्रतिशत), नौवें नंबर पर अरुणाचल प्रदेश (19.3), दसवें नंबर पर नंबर पर मणिपुर (17 प्रतिशत), ग्यारहवें नंबर पर मिजोरम (15.5 प्रतिशत), बारहवें नंबर पर हरियाणा (15.3 प्रतिशत), तेरहवें नंबर पर मेघालय ( 12.9 प्रतिशत), चौदहवें नंबर पर उत्तराखंड (12.7 प्रतिशत) और पंद्रहवें नंबर पर गुजरात है, जहां 10. 9 प्रतिशत घरों में कार है।

UP : आरक्षण बिना निकाय चुनाव, JDU ने BJP की बोलती बंद की

जिन राज्यों में पांच प्रतिशत से भी कम घरों में कार है, उनमें बिहार, बंगाल, ओड़िशा, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, त्रिपुरा और छत्तीसगढ़ हैं। यूपी में 5.5 प्रतिशत घर वाले कार मालिक हैं। कई लोग समझते हैं कि उन राज्यों में घरों में निजी कारें कम हैं, जहां सार्वजनिक परिवहन प्रणाली अच्छी है, लेकिन यह धारणा गलत है। बिहार में सरकारी बसें बहुत पहले बंद हो गई हैं। पहाड़ी राज्यों के कारण कार् ज्यादा होने का तर्क भी ठीक नहीं। हरियाणा और पंजाब में पहाड़ नहीं हैं। कारों का ज्यादा होना मुख्यतः संपन्नता से ही है।

मंत्री इसराइल मंसूरी के पिता के जनाजे में हजारों ने की शिरकत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*