बंगाल भाजपामुक्त की राह पर! नामी सांसद TMC में गए

बंगाल भाजपामुक्त की राह पर! नामी सांसद TMC में गए

यूपी से गुजरात तक संकट में पड़ी भाजपा के लिए एक और बुरी खबर है। बंगाल के सांसद व हाल तक मोदी मंत्रिमंडल के सदस्य रहे बाबुल सुप्रियो टीएमसी में शामिल हो गए।

बंगाल में खेला चालू है। विधानसभा चुनाव के बाद से अबतक भाजपा के चार जीते हुए विधायक पार्टी छोड़कर टीएमसी में शामिल हो चुके हैं, लेकिन आज जो हुआ, वह भाजपा के लिए बहुत बड़ा झटका है। पीटीआई के अनुसार पार्टी के सांसद और हाल तक मोदी मंत्रिमंडल के सदस्य रहे बाबुल सुप्रियो आज भाजपा छोड़कर ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी में शामिल हो गए।

भाजपा पहले ही यूपी से लेकर गुजरात तक परेशान है। गुजरात में पूरे मंत्रिमंडल को बदलना पड़ा। स्पष्ट है, भाजपा के खिलाफ जनता में आक्रोश है, जिसे ऐसे बदलाव के जरिये पार्टी जनता के गुस्से को कम करने का प्रयास कर रहे हैं। यूपी में भी किसान आंदोलन, महंगाई, बेरोजगारी से लेगों में नाराजगी है, जो सांप्रदायिक नारों से कम होती नहीं दिख रही। अब बंगाल से बाबुल के टीएमसी में जाने की खबर भाजपा और खुद प्रधानमंत्री मोदी के तथाकथित मजबूत नेतृत्व पर सवालिया निशान खड़ा करता है।

क्या बंगाल में भाजपा के बुरे दिन आ गए हैं? भाजपा के लिए सबसे बड़ी परेशानी यही है कि पार्टी में मची भगदड़ का अंत कहीं दिखाई नहीं पड़ रहा। कोई यह नहीं कह सकता कि कल कोई और भाजपा विधायक पार्टी छोड़कर टीएमसी में शालिम नहीं होगा। गनीमत है कि देश के मीडिया के लिए भाजपा का संकट कोई मुद्दा नहीं। अगर कांग्रेस या राजद में इस प्रकार भगदड़ होती, तो सारे टीवी प्राइम टाइम में चीख रहे होते।

अगर महंगाई, बेरोजगारी जनता के लिए बुरे दिन साबित हो रहे हैं, तो स्वाभाविक है, भाजपा के लिए अच्छे दिन नहीं हो सकते।

ध्यान रहे, दुनिया की प्रतिष्ठित पत्रिका ने वर्ष को 100 प्रभावशाली लोगों में नरेंद्र मोदी के साथ ममता बनर्जी को भी शामिल किया है। भाजपा समर्थक मोदी के टाइम प6िका में आने की ज्यादा चर्चा नहीं कर रहे, क्योंकि पत्रिका ने प्रदानमंत्री को लोकतंत्र और धर्मनिरपेक्षता का विरोधी करार दिया है, जिससे उनकी प्रतिष्ठा दुनिया में कम ही हुई है।

गायक, टीवी कलाकार बाबुल सुप्रियो बंगाल के आसनसोल लोकसभा क्षेत्र से 2014 और 2019 में भाजपा के टिकट पर चुनाव जीते। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से प्रधानमंत्री मोदी के चित्र हटा दिए हैं।

वे चापलूसी में लोगों का जीवन खतरे में डाल रहे : तेजस्वी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*