DG ने दी गाली, आहत IPS विकास वैभव छोड़ सकते हैं नौकरी

DG ने दी गाली, आहत IPS विकास वैभव छोड़ सकते हैं नौकरी

DG (होमगार्ड) शोभा अहोतकर ने आईजी (होमगार्ड) IPS विकास वैभव को गाली दी। विकास वैभव ने ट्वीट करके बयां किया दर्द। छोड़ सकते हैं नौकरी।

आईजी होमगार्ड विकास वैभव के एक ट्वीट से हंगामा हो गया है। उन्होंने ट्वीट करके कहा कि डीजी होमगार्ड शोभा अहोतकर ने उन्हें गाली दी है। हालांकि बाद में उन्होंने इस ट्वीट को डिलीट कर दिया। पुलिस विभाग ने विकास वैभव को कारण बताओ नोटिस भी जारी कर दिया है। इस प्रकरण के बाद उन्होंने लिखा कि यात्री मन व्याकुल है और बंधन से मुक्त होना चाहता है। साफ है वे नौकरी छोड़ सकते हैं।

मामला मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के समक्ष भी पहुंचा। मुख्यमंत्री ने आईपीएस विकास वैभव के ट्वीट पर हैरानी जताई और कहा कि कोई शिकायत हो तो वरिष्ठ को जानकारी देनी चाहिए। इस तरह ट्वीट करके मामले को सार्वजनिक करना ठीक नहीं है। इसके बाद विकास वैभव को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया गया। ट्विटर पर विकास वैभव के एक लाख 70 हजार फॉलोअर्स हैं। फेसबुक पर चार लाख फॉलोअर्स हैं। इनमें ज्यादा संख्या प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी करने वाले युवाओं की है।

इधर आईपीएस विकास वैभव ने एक अन्य ट्वीट में कहा #यात्री_मन व्याकुल है ! बंधनों से मुक्त होना चाहता है ! परिस्थितियाँ अवरोध उत्पन्न करती प्रतीत भले हो रहीं हों परंतु #यात्री_मन यह भी जानता है कि #यात्री_मन को कोई बांध नहीं सकता है ! जो निर्धारित है वह स्वयं अपना मार्ग प्रशस्त करेगा ! शेष सब माया ही है परंतु कर्म महत्वपूर्ण है ! थोड़ी देर पहले उन्होंने एक और ट्वीट करके कहा-“क्वचित् सर्पोऽपि मित्रत्वमियात् नैव खलः क्वचित्। न शोषशायिनोऽप्यस्य वशे दुर्योधनः हरेः॥”

अर्थात – “कभी-कभी सर्प भी मित्र बन सकता है, किन्तु दुष्ट को कभी मित्र नहीं बनाया जा सकता । शेषनाग पर शयन करने वाले हरि का भी दुर्योधन मित्र न बन सका !”

विकास वैभव का कार्यकाल अब ज्यादा नहीं बचा है। वे आईजी पद पर हैं। संभव है वे नौकरी छोड़ कर नई भूमिका में खुद को उतारें। वैसे भी वे युवाओं को गाईट करते हैं। कोच करते रहे हैं। तो क्या वे मेडिकल-इंजीनियरिंग की तैयारी कर रहे युवाओं को प्रेरित करने की नई भूमिका में उतरेंगे? वे 200 से अधिक वाट्स ग्रुपों से जुड़े हैं। वे लगातार युवकों के संपर्क में रहते हैं। इसीलिए माना जा रहा है कि सरकारी नौकरी छोड़ सकते हैं।

बिहार पुलिस हर जिले में रोज सुन रही जनता की शिकायतें