ईद-अक्षय तृतीया पर माइक की आवाज परिसर से बाहर न जाए : योगी

ईद-अक्षय तृतीया पर माइक की आवाज परिसर से बाहर न जाए : योगी

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लोग ईद और अक्षय तृतीया पर माइक का प्रयोग कर सकते हैं, पर आवाज परिसर से बाहर न जाए।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज निर्देश दिया कि ईद और अक्षय तृतीया के मौके पर माइक का प्रयोग किया जा सकता है, लेकिन आयोजन स्थल से आवाज बाहर नहीं जानी चाहिए। राज्य में कानून व्यवस्थी की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने यह निर्देश दिया और साथ ही कहा कि सबको अपनी पूजा और धार्मिक आयोजन करने की आजादी है। माइक का प्रयोग किया जा सकता है, पर इससे दूसरे को कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी नए स्थान पर माइक लगाने की इजाजत नहीं होगी। इस नए निर्देश के अनुपालन के लिए पुलिस को सतर्क रहने का निर्देश दिया गया है। थाने के एसएचओ से लेकर एडीजी तक धार्मिक नेताओं तथा इलाके के प्रमुख व्यक्तियों से अगले 24 घंटे के भीतर बात रकरेंगे। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि जो भड़काऊ बयान देंगे, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि बिना इजाजत कोई भी धार्मिक जुलूस नहीं निकाला जा सकता। किसी प्रदर्शन के लिए इजाजत देने से पहले आयोजकों को शपथ पत्र देना होगा कि कार्यक्रम में कोई गड़बड़ी नहीं होगी। प्रदर्शन की इजाजत भी परंपरागत जुलूसों के लिए ही दी जाएगी। पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने कहा-ये प्रशासनिक कदम सराहनीय है,इसमें कोई राजनीति नहीं। ऐसी यात्राओं की यदि अनुमति मिले भी तो, हथियार-तलवार, फरसा,बंदूक़ पूर्णतः प्रतिबंधित रहना चाहिए। …लेकिन कथनी करनी में अंतर न हो, यह भी देखना होगा।

मालूम हो कि यूपी, बिहार सहित कई प्रदेशों में रामनवमी के अवसर पर निकाली गई शोभायात्रा में मस्जिदों के सामने भड़काऊ नारे लगाए गए। दिल्ली में तो हिंसा भी हुई। अब देखना है कि यूपी में मुख्यमंत्री के इस आदेश का क्या असर पड़ता है।

प्रधानमंत्री मोदी IAS कुंदन कुमार को देंगे एक्सीलेंस अवार्ड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*