हड़ताली आशाकर्मी से प्रभारी डॉक्टर ने की मारपीट, हंगामा

हड़ताली आशाकर्मी से प्रभारी डॉक्टर ने की मारपीट, हंगामा

हड़ताली आशाकर्मी से प्रभारी डॉक्टर ने की मारपीट, हंगामा। आशाकर्मियों की राज्यव्यापी हड़ताल का दूसरा दिन। मारपीट करनेवाले डॉक्टर को सस्पेंड करने की मांग।

बिहार राज्य आशा कार्यकर्ता संघ की अध्यक्ष शशि यादव ने कहा कि राज्यभर में हड़ताल का व्यापक असर पड़ा है। उन्होंने बिहटा रेफरल अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ कृष्ण कुमार पर हड़ताली आशा के साथ मारपीट व दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया। उन्होंने मारपीट करनेवाले डॉक्टर को निलंबित करने की मांग की है।

उन्होंने कहा कि पारितोषिक नहीं – मानदेय दो, एक हजार नहीं – दस हजार दो,कोरोना काल सहित सभी बकाया का भुगतान करो सहित 9 सूत्री मांगों की पूर्ति को लेकर पूरे बिहार की तकरीबन एक लाख आशा और आशा फैसिलिटेटर आज दूसरे दिन और बड़ी भागेदारी के साथ पूरे बिहार में हड़ताल को सफल बनाया। आशा हड़ताल की मुख्य नेत्री व बिहार राज्य आशा कार्यकर्ता संघ (गोप गुट – ऐक्टू) अध्यक्ष शशि यादव ने बताया कि आज अनिश्चितकालीन हड़ताल के दुसरे दिन कुछ बचे खुचे पीएचसी की आशाएं भी हड़ताल पर चली गयी जिस कारण राज्य की ग्रामीण स्वास्थ्य सेवा पूरी तरह ठप्प हो गया।

उन्होंने बताया कि जगह जगह प्रसाशन हड़ताली आशाओं को डरा धमका रहा है , बिहटा रेफरल अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ कृष्ण कुमार पर एक हड़ताली आशा के साथ मारपीट व दुर्व्यवहार करने का आरोप आशा नेत्री शशि यादव ने लगाते हुए डॉ कृष्ण कुमार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर उनपर अनुसाशनत्मक कार्रवाई की मांग की है।

आशा नेत्री शशि यादव ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्री,मुख्य सचिव व स्वास्थ्य प्रधान सचिव सहित अन्य सभी प्रमुख पदाधिकारियों को एक महीना पहले ही अनिश्चितकालीन हड़ताल का लिखित सूचना दिया गया है परन्तु सरकार और स्वास्थ्य विभाग निष्क्रिय बना हुआ है और अब जब राज्य की ग्रामीण स्वास्थ्य सेवा पूरी तरह ठप्प हो गया है तब प्रसाशन जगह जगह आशाओं को डरा धमका रहा है।

BJP नेता ने कैमरे के सामने कहा, लाठीचार्ज से नहीं हुई मौत