मुश्किल में KK Pathak, हाइकोर्ट ने जारी कर दिया वारंट

मुश्किल में KK Pathak, हाइकोर्ट ने जारी कर दिया वारंट। पटना हाईकोर्ट ने अवमानना मामले में जारी किया जमानती वारंट। मानवाधिकार आयोग में पहुंची शिकायत।

अपने कड़े फैसलों के लिए चर्चित हो चुके शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव KK Pathak परेशानी में फड़ गए हैं। उनके खिलाफ पटना हाईकोर्ट ने जमानती वारंट जारी कर दिया है। न्यायाधीश पीबी बजनथ्री व न्यायाधीश जितेंद्र कुमार की खंडपीठ ने छह जुलाई को घनश्याम प्रसाद सिंह की ओर से दायर अवमानना याचिका पर सुनवाई के दौरान यह वारंट जारी किया। केके पाठक को अदालत में पेश होने का आदेश दिया गया था, लेकिन वो पेश नहीं हुए थे। कोर्ट ने कल 13 जुलाई को हर हाल में पेश होने को कहा था, लेकिन वे पेश नहीं हुए। अगली सुनवाई 20 जुलाई को होगी। उनकी तरफ से अधिवक्ता नरेश दीक्षित ने बताया कि केके पाठक ने जून, 2023 में अपने पद पर योगदान दिया। उन्होंने नालंदा के जिला शिक्षा पदाधिकारी को पत्र लिखकर आदेश का पालन किए जाने का निर्देश दिया।

इस बीच राज्य के शिक्षकों का एक गुट मानवाधिकार आयोग पहुंचा है। मालूम हो कि केके पाठक ने बिना बताए स्कूल से गैरहाजिर रहने वाले शिक्षकों की सूची बनाने तथा ऐसे शिक्षकों को सस्पेंड करने का आदेश जिला शिक्षा पदाधिकारियों को दिया है। इससे सैकड़ों शिक्षकों के समक्ष सस्पेंशन की तलवार लटक रही है। इन शिक्षकों ने मानवाधिकार आयोग से गुहार लगाई है कि इस तरह सस्पेंड करना मानवाधिकार का उल्लंघन है। याद रहे शिक्षक संगठन ने पटना में प्रदर्शन का आयोजन किया था। 13 जुलाई को भी भाजपा ने इसी मुद्दे पर प्रदर्शन रखा था। स्कूल से गैरहाजिर होकर प्रदर्शन में शामिल होने वाले शिक्षकों पर कार्रवाई हो सकती है।

BJP नेता ने कैमरे के सामने कहा, लाठीचार्ज से नहीं हुई मौत

By Editor


Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/naukarshahi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420